-फोरम का तर्क-एसी में बैठाकर खाना खिलाने के बदले ओवर चार्ज करने का अधिकार नहीं

Gwalior Consumer Forum: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पटेल नगर स्थित एमडी होटल बैलेव्यू को दो पानी की बोतल पर 30 रुपये की ओवर चार्जिंग काफी महंगी पड़ गई। जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोषण आयोग (उपभोक्ता फोरम) ने 30 रुपये वापस करने का आदेश दिया है। ओवर चार्जिंग को अनुचित व्यापार मानते हुए 1500 रुपये का जुर्माना लगाया है। साथ ही एक हजार रुपये उपभोक्ता फोरम में केस लड़ने का खर्च भी होटल संचालक को देना होगा। फोरम ने टिप्पणी करते हुए कहा कि एसी में बैठाकर खाना खिलाने के बदले में होटल को ओवर चार्जिंग का अधिकार नहीं है। यह सेवा में कमी है।

प्रेम नगर निवासी प्रशांत माथुर अपने परिवार के साथ पटेल नगर स्थित एमडी होटल बैलेव्यू में डिनर पर गए थे। उन्होंने खाने के साथ दो पानी की बोतल भी ली। इन बोतल पर 20 रुपये एमआरपी थी, लेकिन बिल में एक बोतल के 35 रुपये जोड़े गए। दो बोतल 70 रुपये की दी। दो बोतलों पर 30 रुपये की ओवर चार्जिंग की। इसको लेकर आपत्ति भी की, लेकिन होटल संचालक ने इसे नजरअंदाज कर दिया। ओवर चार्जिंग को लेकर नोटिस भी दिया। होटल ने नोटिस को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई और न कोई जवाब दिया। जिसके चलते उन्होंने 1 जनवरी 2020 को उपभोक्ता फोरम में परिवाद दायर किया। फोरम ने होटल संचालक को नोटिस जारी कर जवाब मांगा। होटल संचालक ने भी जवाब पेश किया।

मीनू में बोतल का उल्लेख नहीं, बाहर से लाकर दीः होटल की ओर से जवाब दिया कि सर्व प्रथम ग्राहक को मीनू दिया जाता है, जिस पर आइटम लिखे होते हैं और उनके सामने रेट लिखा रहता है। बोतल उनके मीनू में नहीं था। होटल में एसी में बैठने के साथ-साथ खाना परोसते हैं और पीने के लिए सादा आरओ का ठंडा पानी देते हैं। जिसका कोई शुल्क नहीं वसूला जाता है। आवेदक से 30 रुपये अतिरिक्त नहीं वसूल किए हैं। बिल में 152 रुपये की छूट भी दी।

फोरम ने यह दिए तर्क

-फोरम ने तथ्यों को देखने के बाद कहा कि बिल में बोतलों के 35-35 रुपये जोड़े गए हैं। यह स्पष्ट हो चुका है।

-बिल में जो छूट दी है, वह पूरे बिल पर दी है। इसका यह मतलब नहीं है कि अधिक पैसे वसूलने का अधिकार मिल गया है।

-ओवर चार्जिंग सेवा में कमी है और अनुचित व्यापार के व्यवहार को प्रमाणित करता है।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close