Gwalior corona Virus News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। इंदौर-भोपाल की तरह अब ग्वालियर में भी कोरोना का विस्फोट हो रहा है। शनिवार को 2137 लोगों की जांच में 458 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। इसके अलावा 13 संक्रमित शहर के बाहर के थे। अब शहर के काेने-काेने से संक्रमित निकल रहे हैं। शहर में संक्रमण दर अब 21.4 फीसद पर पहुंच गई है, जो वर्ष 2021 की सर्वाधिक है। इस तरह से समझा जा सकता है कि जांच कराने वाले 100 लोगों में 21 संक्रमित निकल रहे हैं। इससे पहले 2020 में कभी इतना बड़ा आंकड़ा देखने को नहीं मिला था। हालांकि 14 सितंबर 2020 को 705 लोगों की जांच में 204 संक्रमित मिलने पर संक्रमण दर 28.9 फीसद पर पहुंची थी। इसके बाद कभी संक्रमण दर इस अंक पर नहीं पहुंच सकी। इस बार कोरोना के सभी रिकार्ड टूटेंगे, क्योंकि पिछले 10 दिन में 2160 संक्रमित पाए गए, जबकि 21 लोग कोरोना से अपनी जान गंवा चुके हैं। इससे पहले 10 दिन में इतनी संख्या में मरीज कभी नहीं पाए गए। कोरोना विस्फोट के बाद अब लॉकडाउन और बढ़ने की आशंका है।

दस दिन में कोरोना की चाल-

दिन सैंपल संक्रमित स्वस्थ दर मौत

1अप्रैल 1421 129 42 9.0 1

2अप्रैल 1710 120 40 7.0 1

3अप्रैल 1520 120 65 7.8 2

4अप्रैल 1588 146 63 9.1 0

5अप्रैल 1403 160 68 11.4 2

6अप्रैल 1798 181 69 10.0 1

7अप्रैल 1769 225 59 12.7 5

8अप्रैल 2044 298 45 14.5 3

9अप्रैल 2165 323 60 11.0 3

10अप्रैल 2137 458 105 21.4 3

संक्रमण फैलने के प्रमुख कारण-

बाहर से आने वालों पर निगरानी नहींः दूसरे शहरों से आने वाले लोगों पर कोई निगरानी नहीं है। बाहर से आने वाला हर व्यक्ति खुद से जांच कराने नहीं पहुंचता है। यदि किसी में कोई लक्षण आता है तो वह जांच कराता है पर तब तक वह काफी लोगों के संपर्क में आ चुका होता है।

संक्रमित होने के बाद भी बाहर निकलनाः ऐसे लोग जो कोरोना संक्रमित तो हैं पर उन्हें किसी तरह के लक्षण नहीं है । ऐसे लोग जो होम आइसोलेट होने के बाद भी घर से चोरी छिपे निकलते हैं और उनके संपर्क में आने से दूसरे लोग संक्रमित हो जाते हैं।

रिपोर्ट निगेटिव पर लक्षण पूरेः ऐसे लोग जिनकी रिपोर्ट तो कोरोना निगेटिव है पर उन्हें लक्षण पूरे आ रहे हैं। ऐसे लोग जब घर से बाहर निकलते हैं तो उनके संपर्क में आने वाला संक्रमित हो जाता है। ऐसे लोग सीटी स्कैन कराने, मेडिकल से दवा लेने व डाक्टर को दिखाने के लिए अस्पताल व क्लीनिक पहुंच रहे हैं। यही कारण है कि डाक्टर इनके संपर्क में आने से संक्रमित निकल रहे हैं।

इन स्थानों पर हुआ विस्फोटः

बीएसएफ अकादमी में निकले 17 संक्रमितःकोरोना का विस्फोट बीएसएफ अकादमी टेकनपुर में हुआ है। जहां पर अलग-अलग राज्यों से प्रशिक्षण लेने आए 16 जवान संक्रमित पाए गए। इसमें एक महिला जवान भी शामिल है। इसके अलावा 53 वर्षीय जवान भी संक्रमित निकला है। इन जवानों में अधिकांश को खांसी-बुखार की शिकायत बताई गई है। जिसके चलते इनकी कोरोना की जांच कराई गई। एयरफोर्स का जवान व उसकी पत्नी भी संक्रमित निकली हैं । इसके अलावा एक अन्य जवान भी संक्रमित निकला है।

भोपाल,इंदौर, दिल्ली से आए लोग निकले संक्रमितः थाटीपुर की 37 वर्षीय महिला अपनी पांच व सात साल की बेटी के साथ भोपाल से एक दिन पहले ग्वालियर आई थी। जांच कराई तो तीनों ही संक्रमित पाए गए। महिला ने बताया कि उसके पति भोपाल में एसबीआइ में बैंक मैनेजर हैं और वह अपने घर आई थी। वहीं डीडी नगर का 28 वर्षीय युवक संक्रमित निकला है। उसका कहना है कि इंदौर में आइडीबीआइ बैंक में सहायक प्रबंधक है और बीते रोज ही वह इंदौर से लौटा, यहां जांच कराई तो संक्रमित निकला। मुरार का 34 वर्षीय युवक दिल्ली से दो दिन पहले लौटा है और अब वह संक्रमित निकला। वहीं किलागेट पर रहने वाला 36 वर्षीय युवक दो दिन पहले नासिक से लौटा और संक्रमित निकला है। चार शहर का नाका पर रहने वाली 26 वर्षीय महिला दो दिन पहले पति के साथ आगरा से लौटी थी और अब संक्रमित पाई गई है।

मानसिक रोग से पीड़ित महिला निकली संक्रमितः जेएएच परिसर में स्थित महिला लांग स्टे-होम में रहने वाली चार मानिसिक रूप से कमजोर महिलाएं संक्रमित पाई गई हैं। इन सभी महिलाओं को मानसिक आरोग्शाला से दो माह पहले शिफ्ट किया गया था। इन महिलाओं को बुखार, खांसी व सिरदर्द की परेशानी थी, जिसके चलते इनकी जांच कराई तो संक्रमित पाई गईं।

डाक्टर संक्रमण की चपेट मेंः समाधिया कालोनी में एक डाक्टर दंपती कोरोना संक्रमित पाया गया है। जेएएच में तैनात डाक्टर को बुखार आया तो उन्होंने पत्नी के साथ कोरोना की जांच कराई । दंपती 15 मार्च को कोरोना का दूसरा टीका लगवा चुका है। जेएएच के सर्जरी विभाग के दो जूनियर डाक्टर संक्रमित पाए गए हैं। इनका कहना है कि संक्रमित के संपर्क में आने से वह संक्रमित हुए हैं, क्योंकि पिछले दो सप्ताह से लगातार जूनियर डाक्टर संक्रमित निकल रहे हैं। थाटीपुर के 65 वर्षीय रेडियोलॉजी के डाक्टर संक्रमित निकले है। उन्हें कुछ दिन से बुखार आ रहा था। इसके साथ ही थाटीपुर में 48 वर्षीय मेडिकल स्टोर संचालक संक्रमित पाया गया। वहीं जेएएच का 53 वर्षीय कर्मचारी संक्रमित पाया गया।

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags