- चीनौर में अधिकारियों की फटकार के बाद शुरू की जांच

Gwalior Corona Virus News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। गांव में कोविड-19 का संक्रमण घर-घर पहुंच चुका है। खांसी, जुकाम व बुखार के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इस बीमारी के बीच गांव में मौत की खबरें सुनने के बाद लोग अब जांच कराने के लिए आगे आए हैं, लेकिन गांव में खुले जांच केंद्रों से लोगों को यह कहते हुए लौटा जा रहा है कि आधार कार्ड दूसरी तहसील का है। इसलिए वहीं पर जांच होगी। सोमवार को एसे ही वाकये चीनौर के जांच केंद्र पर सामने आए। सुबह जितने भी लोग जांच कराने पहुंचे, उनका आधार कार्ड देखने के बाद हुए लौटा दिया कि आतरी जाइये। यहां पर जांच नहीं होगी। करीब आधा सैकड़ा लोग बिना जांच के लौट गए। इस पूरे मामले की शिकायत जिला प्रशासन के पास पहुंची तो साढ़े दस बजे से जांच शुरू की। अधिकारी भी सफाई देने लगे। भितरवार, आतरी, चीनौर में ऐसे हालात बने है। आधार कार्ड के बाद लोगों को लौटा जा रहा है। एसी परिस्थितियों की मुसीबत खड़ी का जा रही है, जब संक्रमण बढ़ रहा है। वहीं दूसरी ओर अभी तक मौतों की खबर कम थी, लेकिन अब ग्रामीण क्षेत्र में भी सरकारी आंकड़े में मौते आ गई हैं।

सबसे ज्यादा संक्रमण व मौत भितरवार, वहीं लापरवाही

-जिले का सबसे ज्यादा संक्रमण भितरवार ब्लाक में है। मौते भीं इस क्षेत्र में हो रही हैं। कोविड-19 की चैन तोड़ने के लिए सैंपलिंग जरूरी है, लेकिन इसी ब्लाक में सैंपलिंग में परेशानी खड़ी की जा रही है।

- रैपिड एंटीजन में सैंपलिंग को लेकर भी सवाल खड़ रहे हैं, क्योंकि पाजिटिवों की संख्या लगातार कम दिखा रहे हैं। भितरवार में एक हजार से ज्यादा पाजिटिव है और हाट स्पाट भी अधिक हैं।

- टेस्ट को लेकर लोग बहस कर रहे हैं। बहस में लोगों अभद्र भाषा का सामना करना पड़ रहा है।

केस-1: अमरोल कोविड-19 का हाट स्पाट बना हुआ है। इस गांव में एक महिला की बुखार, खांसी, जुकाम से ज्यादा तबियत खराब है। महिला का बेटा शनिवार व रविवार को दो दिन तक लगातार उसे जांच के लिए चीनौर लेकर पहुंचा, लेकिन उसे आतरी जाने के लिए कह दिया। महिला दुबारा जांच के लिए नहीं गई। उन्होंने दवाई खुद से ही शुरू कर दी।

केस-2: बनवार में भी बडी़ संख्या में कोविड-19 के पाजिटव है। सोमवार सीआरपीएफ के जवान को उसका भाई चीनौर जांच के लिए ले गया। उसका आधार कार्ड देखने के बाद आतरी जाने को कहा गया। इसको लेकर काफी बहस भी हुई। प्रशानिक अधिकारियों के फोन पहुंचने के बाद जांच हुई।

ब्लाक आबादी संक्रमित स्वस्थ हुए मौतें 17 मई को पाजिटव

भितरवार 1.8 लाख 565 260 6 5

घाटीगांव 1.4 लाख 231 125 2 1

मुरार 1.34 लाख 168 95 4 0

डबरा 1.78 लाख 164 100 1 3

इनका कहना है

- कोविड-19 की चैन तोड़ने में ग्रामीण सहयोग नहीं कर रहे हैं। ये आइसोलेशन सेंटरों में जाने की वजाए घर जाना चाहते हैं। चीनौर को निर्देशित कर दिया है कि जो भी व्यक्ति आए, उसकी जांच करे। किसी को नहीं लौटा जाएगा।

अश्वनी रावत, एडीएम भितरवार

Posted By: anil.tomar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags