Gwalior Corona Virus News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ग्वालियर व आसपास के जिलों से यहां पर इलाज कराने आए एक हजार से अधिक लोगों का जीवन कोरोना महामारी ने अभी तक छीन लिया है। इन मृतकों का दाह संस्कार नगर निगम के लक्ष्मीगंज मुक्तिधाम में किया जा रहा है। मुक्तिधाम में शवों के अंतिम संस्कार कराने का जिम्मा उपायुक्त अतिबल सिंह यादव के पास है। वह अभी तक एक हजार से अधिक शवों का अंतिम संस्कार कोरोना प्रोटोकॉल के तहत करा चुके हैं। साथ ही उनके पास चारों विधानसभाओं के डिपो का भी जिम्मा है, जिसके कारण उन्हें लगातार लोगों के संपर्क में रहना पड़ता है। यादव बताते हैं कि वह सुबह जल्दी घ्ार से निकलते हैं और देर रात में ही घर पहुंचते हैं। कोरोना महामारी के दौरान वे घर से अलग अचलेश्वर मंदिर के पास निगम आवास में ही करीब एक साल से रह रहे हैं।

बहन के जाने का गम बहुत है, आप सभी सावधानी से रहिए दर्द बाकी हैं: मेरी बहन कमलेश राजपूत निवासी काल्पी ब्रिज कालोनी को कोरोना हो गया था। कोरोना के कारण 27 अप्रैल को उनका निधन हो गया। बहन अपने पीछे दो बच्ची और पति को छोड़ गई हैं। उनके जाने का दर्द हम सभी के दिल में है। हम नहीं चाहते कि जो दर्द हम झेल रहे वह किसी और को न झेलना पड़े, इसलिए सावधान रहिए और सभी नियमों का पालन कीजिए। कोरोना वायरस काफी खतरनाक है, इससे जान भी जा सकती है। जरा भी लक्षण आने पर तत्काल जांच कराएं। डाक्टर की सलाह लंे और नियमित दवाईयां लें।

Posted By: anil.tomar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags