Gwalior Court News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा को लेकर उपजे विवाद का मामला हाई कोर्ट पहुंच गया। शुक्रवार को इस मामले पर हाई कोर्ट ने प्रशासन व याचिकाकर्ता का पक्ष सुना। कोर्ट ने आदेश के लिए फैसला सुरक्षित कर लिया। गाेल पहाड़िया निवासी राहुल साहू ने हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर की है। उनकी ओर से तर्क दिया है कि सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा को लेकर दो समाजों में विवाद चल रहा है। इससे शहर में ला एंड आर्डर की स्थिति बिगड़ सकती है। इस विवाद के चलते शहर में भय का माहौल बना हुआ है। इस स्थिति पर रोक लगाने के लिए प्रसाशन को दिशा निर्देश दिए जाएं। प्रशासन की ओर से पैरवी करते हुए अतिरिक्त महाधिवक्ता ने तर्क दिया कि नगर निगम ने प्रतिमा लगाने का जो प्रस्ताव पास किया था, उसमें सम्राट मिहर भोज ही लिखा गया था। इस विवाद को खत्म करने के लिए चार सदस्यीय कमेटी बना दी है, जिसकी रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। कोर्ट ने सभी पक्षों को सुनने के बाद याचिका पर फैसला सुरक्षित कर लिया।

माेबाइल से पकड़ में आए लुटेरे तीन साल पहले की थी लूटः तीन साल पहले हुई लूट के दो आरोपितों को मुरार थाना पुलिस ने पकड़ लिया। पुलिस आरोपितों तक लूटे गए मोबाइल के चालू होने पर उन तक पहुंची है। पुलिस ने दोनों आरोपितों से लूटा गया मोबाइल व घड़ी बरामद कर ली है। मुरार थाना प्रभारी शैलेंद्र भार्गव ने बताया कि दीपक रैकवार निवासी मुरार को दो बदमाशों ने डरा-धमकाकर 28 नवंबर 2019 को लूट लिया था। लुटेरे फरियादी से मोबाइल व घड़ी लूटकर ले गए थे। पुलिस पिछले तीन साल से लुटेरों को पकड़ने का प्रयास कर रही थी। पुलिस ने एक बार फिर लूटे गए मोबाइल को सर्विलांस पर लगाया था। मोबाइल एक्टिव होते ही पुलिस ने आरोपित आशू पुत्र कुंवरवाल जाट निवासी लक्ष्मीबाई कालोनी डबरा व जितेंद्र पुत्र माधौसिंह तोमर निवासी किलागेट को पकड़ लिया।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local