Gwalior Court News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। विशेष सत्र न्यायालय ने फर्जी फेसबुक आइडी बनाकर फरियादी के अश्लील फोटो वायरल करने वाली झांसी निवासी आरोपित लवली नागवानी को 18 महीने की सजा सुनाई है। चार हजार रुपये का अर्थदंड लगाया है।

साइबर जोन ग्वालियर में भक्ति ने 19 मार्च 2018 को एक आवेदन दिया। उसने बताया कि झांसी में किसी ने उसकी फर्जी फेसबुक आइडी बना ली है और उस अश्लील फोटो व पोस्ट वायरल कर रहा है। इससे उसकी सामाजिक छवि खराब रही है। ब्लैकमेलिंग कर रहा है। पुलिस ने इस आवेदन प जांच कर केस दर्ज किया। अलग-अलग धाराओं में केस दर्ज करने के बाद आरोपित की तलाश शुरू की। जिस मोबाइल नंबर से फेसबुक आइडी तैयार की गई थी, पुलिस उस तक पहुंच गई। पुलिस ने झांसी निवासी लवली नागवानी को गिरफ्तार किया। लवली नागवानी ने जिस नंबर फर्जी आइडी बनाई थी, उसे भी जब्त किया। मोबाइल भी जब्त किया गया। इस केस की जांच के बाद विशेष सत्र न्यायालय में चालान पेश किया। विचारण में फरियादी ने अभियोजन कहानी का समर्थन नहीं किया, लेकिन पुलिस जो साक्ष्य जुटाए थे, उसके आधार पर आरोपित पर दोषसिद्ध हो गया है। आरोपित ने बचाव में तर्क दिया कि उसका पहला अपराध है। यदि सजा सुनाई जाती है तो भविष्य खराब हो जाएगा। लंबे समय से विचारण का सामना भी किया है। इसलिए दंड देने में नरमी बरती जाएगी। कोर्ट ने उसे 18 महीने की सजा सुनाई।

बहोड़ापुर पुलिस ने 8 जुआरी पकड़े, 1.05 लाख रुपये बरामद

बहोड़ापुर पुलिस ने आठ जुआरियों को पकड़ा है। इनके पास से 1.05 लाख रुपये बरामद हुए हैं। पकड़े गए जुआरियों के नाम मोहन रजक, सुनील गुर्जर, बलवंत पटेल, सौरभ शर्मा, गजेंद्र सिंह, अवधेश बघेल, रिंकू शर्मा और मनोज कुशवाह हैं। इन पर जुआ एक्ट के तहत एफआइआर दर्ज की गई है। रात में इन्हें जमानत पर छोड़ दिया गया।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close