Gwalior Court News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। विशेष सत्र न्यायालय ने तीन साल की मासूम के साथ गलत हरकत करने वाले आरोपित वसीम खान पुत्री सत्तार खान निवासी सेवा नगर को 20 साल की सजा सुनाई है। 20 हजार रुपये का अर्थदंड लगाया है। आरोपित को सजा काटने के लिए जेल भेज दिया।

अतिरिक्त जिला अभियोजन अधिकारी अनिल मिश्रा ने बताया कि पीड़ित ने अपनी मां के साथ उपस्थित होकर थाना ग्वालियर एक आवेदन दिया। मां की ओर से बताया गया कि 23 अक्टूबर 2020 को रात्रि 08:30 बजे 3 साल की मासूम बेटी(अभियोक्त्री) सेवानगर में स्थित माता के दर्शन करने गई थी। 15-20 मिनट बाद लौटकर आयी तो पीड़ित ने अपनी दादी को बताया कि आटो वाले अंकल ने उसे जबरन आटो में बिठा लिया। यूरिन वाली जगह पर हाथ लगाकर गंदी हरकत की। ये बात सुनकर पीड़ित की दादी उसे आटो वाले के पास लेकर गई। तब पीड़ित ने आरोपी की तरफ हाथ करके बताया कि इसी अंकल ने उसे आटो में जवरदस्ती बिठाकर गलत हरकत की है। आटो मालिक के भतीजे से पीड़ित की दादी ने जब आटो वाले का नाम पूछा तो उसने उसका नाम वसीम पुत्र सत्तार खान बताया था। फिर आरोपी वसीम मौके से फरार हो गया। पीड़ित की मां की शिकायती आवेदन पर थाना ग्वालियर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ अलग-अलग धाराओं में केस दर्ज कर लिया।

गाड़ी का रजिस्ट्रेशन व चालक का लाइसेंस किया निलंबितः क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ने चितौरा रोड पर स्थित विक्रांत कालेज के पास दुर्घटना करने वाली गाड़ी का रजिस्ट्रेशन व चालक का ड्राइविंग लाइसेंस तीन माह के लिए निलंबित कर दिया। चालक को अब वाहन चलाने का अधिकार नहीं है। साथ ही वाहन भी सड़क पर नहीं चल सकता है। चालक रामाकांत जाटव ने लावरवाही से गाड़ी चलाते हुए दो बच्चे, दो महिला व एक पुरुष को टक्कर मार दी थी। इसके चलते सभी मौत हो गई। इस घटना के बाद आरटीओ एसपीएस चौहान ने कार्रवाई की है। आरटीओ ने बताया कि एमपी 07 सीएच4974 लाखन सिंह के नाम है। इस गाड़ी को रमाकांत जाटव चला रहे थे। इस वाहन की टक्कर से पांच लोगों की मौत हुई है, जिसके चलते कार्रवाई की गई है।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close