- याचिका को मूल याचिका के साथ अटैच

Gwalior Court News: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। हाई कोर्ट की युगल पीठ ने शासन से पूछा है कि मौत के सरकारी व प्रिंट मीडिया में जो आंकड़े प्रकाशित हो रहे हैं, उनमें अंतर क्यों है। कहां चूकी जा रही है। इसके संबंध में स्पष्टीकरण दिया जाए। साथ ही भिंड, दतिया व श्योपुर में सीटी स्केन मशीन कबतक स्थापित होगी। इसके संबंध में सात दिनों में रिपोर्ट पेश करें। कोर्ट ने पूर्व में आदेश दिए हैं,उनका कड़ाई से पालन किया जाए। इस याचिका को हाई कोर्ट में लंबित मूल याचिका के साथ जोड़ दिया गया। याचिका की सुनवाई जबलपुर में मुख्य न्यायाधीश की बैंच ने की थी।

तरूण सिंह कुशवाह ने हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर की है। यह याचिका जबलपुर स्थानांतरित हो गई। याचिकाकर्ता के अधिवक्ता राजा शर्मा ने तर्क दिया कि कोरोना की दूसरी लहर में अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी है। मरीजों को रेमडेसिविर इंजेक्शन नहीं नहीं मिल रहे हैं। निजी अस्पतालों का इलाज काफी महंगा हो गया है। सरकार के जिन पोर्टल में मौत के आंकड़े दर्ज हो रहे हैं, उनमें अंतर है। ग्वालियर में 16 मई को 20 लोगों की कोविड प्रोटोकाल में अंतिम संस्कार किया गया था, लेकिन मौत सिर्फ 6 घोषित की। भिंड, दतिया, श्योपुर में सीटी स्केन मशीनें नहीं हैं। इसके चलते लोगों को परेशानी हो रही है। 19 अप्रैलको कोर्ट ने जो देश दिए थे, उनके भी पालन नहीं हो रहे हैंं। याचिकाकर्ता का पक्ष सुनने के बाद कोर्ट ने महाधिवक्ता से सवाल किया कि कोविड की जांच के लिए सीटी स्कैन अहम जांच है। इन्हें स्थापित करने के निर्देश दिए। जब कोविड खत्म हो जाएगा, तब इन मशीनों को लगाएंगे। महाधिवक्ता पुरुषेंद्र कौरव ने इस संबंध स्थिति स्पष्ट करने के लिए समय ले लिया। साथ ही मौत के आंकड़ोें पर कोर्ट ने प्रश्न चिह्न खड़ा किया था, उस पर वास्तविक स्थिति पता करने की कही।

इन मुद्दों को उठाया कोर्ट के सामने

याचिकाकर्ता ने तर्क दिया कि जयारोग्य चिकित्सालय में टेस्टिंग के लिए चार विंडो खोली गई थीं लेकिन एक पर ही जांच की जा रही है, इस पर कोर्ट ने कहा कि टेस्ट की संख्या बढ़ाई जाए वहीं टेस्टिंग के सेंटर भी बढ़ाएं जाएं।

- आरटीपीसीआर की संख्या में रेपिड टेस्ट के परिणाम नहीं जोड़े जाने पर उनकी संख्या भी जोड़े जाने की बात कही गई।

- प्रदेश में मौत के आंकड़ों में भी हेरफेर कर रहे हैं।

Posted By: anil.tomar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags