- न्यायालय ने शादी शून्य पर फैसला रखा सुरक्षित

Gwalior Court News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। कुटुंब न्यायालय में टूटते रिश्तों के ऐसे मामले सामने आने लगे हैं, जिन्हें सुनकर चकित रह जाएंगे। कुछ घंटे ही शादी चल सकी और वह टूट गई। ऐसा ही एक मामला विवाह को शून्य कराने का आया है। जिस पर आदेश के लिए फैसला सुरक्षित है। पत्नी के साथ हुए दुष्कर्म की बात को छिपाकर विवाह कर लिया। शादी की रात पूरी कहानी पति को बता दी। पति ने पत्नी को छोड़ दिया और विवाह शून्य के लिए कुटुंब न्यायालय में आवेदन पेश कर दिया। इस पर फैसला होना शेष है।

पति की ओर से कोर्ट में विवाह शून्य का आवेदन पेश किया गया। उसने आवेदन में तर्क दिया कि उसका विवाह 2019 में हुआ था। शादी की रात पत्नी ने पति को ऐसी बात बता दी। जो बात पत्नी ने पति को बताई, उस बात को अपने स्वजनों को बताई। पत्नी को तत्काल उसके मायके भेज दिया। जब पूरा मामला खुला तो सामने आया कि लड़की जिसने दुष्कर्म किया, वह उसके मामा का लड़का था, जिसने बहन भाई के रिश्तों को तार-तार किया था। शादी टूट जाने के बाद पीड़िता ने मामला के लड़के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज कराया, लेकिन पति उसे रखने के लिए तैयार नहीं हुआ। उसने 2019 में विवाह को शून्य कराने के लिए आवेदन पेश कर दिया। पति की ओर से कहा गया कि धोखे से किया हुआ विवाह है, इसे मान्य नहीं किया जा सकता है। कोर्ट ने पत्नी से जवाब के लिए नोटिस जारी किया, लेकिन वह उपस्थित नहीं हुई। पत्नी को एक्स पार्टी कर दिया। एक पक्षीय आदेश के लिए फैसला सुरक्षित है।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local