Gwalior Crime News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बगैर किसी कारण के शव रखकर गोला का मंदिर चौराहे को दो घंटे तक जाम करना लोगों को महंगा पड़ गया है। गोला का मंदिर थाना पुलिस ने रात में ही आधा सैकड़ा से अधिक लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है। नामजद आरोपितों में मृतक मुकुल पटवा के परिजन भी शामिल हैं। गोला का मंदिर थाना प्रभारी विनय शर्मा ने बताया कि शव रखकर जाम करने वालों को समझाया जा रहा था कि रात को सिरौल थाने में ट्रैक्टर चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है। आरोपित चालक को पकड़कर थाने बैठा दिया है। विधि अनुसार कार्रवाई हुई है। इसके बाद भी लोग कुछ सुनने के लिए तैयार नहीं थे।

माडल टाउन के पास (सिरौल) में रविवार की रात को ट्रैक्टर-ट्राली की टक्कर से बाइक पर सवार मुकुल पटवा निवासी शताब्दीपुरम की मौके पर ही मौत हो गई थी। सोमवार की सुबह सिरौल थाना पुलिस ने शव का डाक्टरी परीक्षण कराने के बाद स्वजनों को सौप दिया था। परिवार के लोगाें ने शव को घर ले जाने की बजाए गोला का मंदिर चौराहे पर रख दिया और चाैराहे पर जाम लगा दिया था। जिसके कारण भिंड-मुरैना की यात्री बस जाम में फंस गई। पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती का किले पर जाने के लिए रूट डायवर्ट करना पड़ा। पुलिस का दावा है कि एंबुलेंस भी जाम में फंस गईं थीं। जिससे लोगों को काफी परेशान हुई। जाम लगा रहे लोगों को पुलिस अधिकारी समझा रहे थे कि दुर्घटना के बाद पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया है। पांच हजार की अर्थिक सहायता भी प्रशासन देने को तैयार था। इसके बाद भी यह लोग किसी की नहीं सुन रहे थे।

इन लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्जः गोला का मंदिर थाना पुलिस ने कैलाश पटवा, अजय शर्मा, नीरज व अमन चौहान के अलावा आधा सैकड़ा लोगों के खिलाफ धारा 147 के तहत प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस ने जाम लगाने वालों की वीडियो भी बनाई है। जिसे देखकर जाम करने वालों की पहचान की जाएगी।

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags