Gwalior Crime News: अमित मिश्रा, ग्वालियर नईदुनिया। सिटी सेंटर स्थित सरकारी मल्टी में रहने वाली 16 वर्षीय किशोरी- घर में अकेली थी, बहाने से उसके पड़ोस में रहने वाले युवक घुस आए। तीनों किशोरी को जानते थे, आपस में बोलचाल भी थी। घर में अकेली किशोरी के साथ युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। आंतरी की 13 वर्षीय किशोरी, जिसकी शादी उसी के सगे भाई ने रिश्तेदार से करा दी। रिश्तेदार ने जबरन शादी की फिर उसके साथ दुष्कर्म किया। यह दो उदाहरण हाल ही के हैं, जिनमें पीड़िताओं के साथ उनके परिचित और रिश्तेदार ने ही हैवानियत की। ऐसे मामले लगातार बढ़ रहे हैं, जिनमें पड़ोसी, दोस्त, इंटरनेट मीडिया से बने दोस्त, खास रिश्तेदार दुष्कर्म के मामलों में आरोपी हैं। पिछले साल जनवरी से लेकर दिसंबर और इस साल जनवरी से मार्च के बीच 15 माह में दुष्कर्म की 293 एफआईआर ग्वालियर में हुईं। इन घटनाओं के आंकड़ों का विश्लेषण जब नईदुनिया ने किया तब सामने आया, 61.77 प्रतिशत घटनाओं में आरोपी परिचित ही निकले। यानी अपरिचितों से जितनी महिलाएं असुरक्षित हैं, उतनी ही करीबीयों से भी। एसएसपी अमित सांघी का कहना है कि अब दुष्कर्म की जितनी घटनाएं हो रही हैं, उनमें से अधिकांश में परिचित ही आरोपित हैं। इसमें लिव इन में रहने के बाद धोखा देने और शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने वालों की संख्या सबसे अधिक है।

जनवरी 2021 से मार्च 2022 तक इतने केस हुए दर्ज

2021 के आंकड़ेः

माह कितनी घटनाएं

जनवरी 19

फरवरी 18

मार्च 14

अप्रैल 23

मई़ 15

जून 24

जुलाई 25

अगस्त 26

सितंबर 32

अक्टूबर 18

नवंबर 14

दिसंबर 11

कुल 239

वर्ष 2022 के आंकड़ेः

माह- कितनी घटना

जनवरी 19

फरवरी 20

मार्च 15

कुल 54

(साेर्स : यह आंकड़े स्टेट क्राइम रिकार्ड ब्यूरो के अनुसार हैं)

थानों में दर्ज केसों का विश्लेषणः

-293 में से 181 घटनाओं में आरोपी किसी न किसी तरह पीड़िताओं के परिचित निकले। इसमें कुछ घटनाओं में करीबी रिश्तेदार तक शामिल हैं, ऐसे मामले करीब 3 प्रतिशत हैं। कुछ घटनाओं में तो पिता, चाचा, भाई, सौतेला पिता आरोपी बनाए गए।

-पुलिस के मुताबिक इंटरनेट मीडिया से दोस्ती, साथ में पढ़ने वाले दोस्त, मैट्रिमोनियल साइट के जरिये दोस्ती के बाद लिव इन में रहे और फिर शादी से इंकार किया। इसके अलावा शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने वालों की संख्या सबसे अधिक है।

-पुलिस अफसरों के मुताबिक पड़ोसियों से भी महिलाओं को खतरा है। पड़ोसियों और मकान मालिक या किराएदार द्वारा दुष्कर्म किए जाने के 21 मामले दर्ज हुए हैं।

वर्जन-

दुष्कर्म की एफआइआर जो हुई हैं, उनमें से करीब 62 प्रतिशत घटनाओं में परिचित आरोपी हैं। लिव इन में रहने के बाद और शादी का झांसा देकर दुष्कर्म की घटनाएं इस बार ज्यादा बढ़ी हैं। इंटरनेट मीडिया पर अंजान से दोस्ती के बाद भी दुष्कर्म होने की घटनाएं हुई हैं। दुष्कर्म के जितने भी मामले हुए, उनमें पुलिस ने एफआइआर के तत्काल बाद ही आरोपियों को गिरफ्तार किया। हमने ऐसे इलाके भी चिन्हित किए हैं, जहां ऐसी घटनाएं हुईं। यहां पुलिसिंग बढ़ाई है।

अमित सांघी, एसएसपी

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close