Gwalior Crime News: ग्वालियर (नप्र)। 11 साल पहले सराफा कारोबारी से लूटे गए गहनों को ठिकाने लगवाने में मदद करने वाले दो बदमाश को गोला का मंदिर पुलिस ने मंगलवार को दबोच लिया है। बदमाश की तलाश पिछले 11 साल से की जा रही थी, उन पर 5-5 हजार रुपये के इनाम भी पुलिस ने घोषित कर रखा था। गौरतलब है कि 15 सितंबर 2011 की शाम सात बजे किला गेट निवासी संजय सोनी अपने नौकर के साथ स्कूटर से घर जा रहे थे। वह बिरला नगर पुल पर पहुंचे थे कि तभी वहां दो बाइक के साथ खड़े चार बदमाशों ने उन्हें स्कूटर सहित जमीन पर गिरा दिया। संजय व उनके नौकर के साथ मारपीट कर तमंचे की नोक पर स्कूटर की डिक्की में रखे गहने व दोनों के मोबाइल व रुपये लूट ले गए थे। संजय ने गोला का मंदिर थाना में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने पड़ताल कर चारों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन लूट का माल को बिकवाने में मदद करने आरोपित फरार थे। भटपुरा थाना मंडराइल जिला करौली (राजस्थान) निवासी दोनों आरोपित नहीं मिले तो पुलिस ने इन पर पांच हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया था। पुलिस दल ग्राम भटपुरा स्थित आरोपित के घर पहुंचा तो वह नहीं मिला, लेकिन लौटते समय पुलिस को दो लोग गली में खड़े दिखे, जो भागने लगे।

सराफा कारोबारी की मारपीट कर लूटे थे गहने व रुपये भटपुरा थाना मंडराइल जिला करौली (राजस्थान) से पकड़े

11 साल पहले हुई लूट का माल ठिकाने लगवाने वाले दो बदमाशों को पकड़ लिया गया है। इन पर 5-5 हजार रुपये का इनाम घोषित था। उनसे पूछताछ कर पता लगाने का प्रयास कर रही है कि वह किन-किन लूट में शामिल रहे और कितनी लूटों का माल ठिकाने लगवाया। मोती उर रहमान, एएसपी शहर दक्षिण

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close