Gwalior Crime News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पुलिस ने बाक्सिंग की नाबालिग राष्ट्रीय खिलाड़ी पर गोली चलाने वाले आरोपित का वाहन खराब होने का बहाना बनाकर जुलूस निकाला। बदमाशों का उसी स्थान पर ले जाकर जुलूस निकाला, जहां पर बदमाशों ने नाबालिग खिलाड़ी को धमकाते हुए फायर किया था। पुलिस का कहना है कि घटना का मौका मुआयना व सीन रीक्रिएट कराने के लिए बदमाशों को रानीपुरा लेकर गए थे। यहां वाहन खराब होने पर उन्हें पैदल लेकर जाना पड़ा।

इन बदमाशों को पुलिस सोमवार को न्यायालय में प्रस्तुत करेगी। एक बदमाश को पुलिस शनिवार को न्यायालय के आदेश पर जेल पहुंचा चुकी है। गौरतलब है कि ग्वालियर की रहने वाली किशोरी बाक्सिंग की राष्ट्रीय खिलाड़ी है। वह हाल ही में विशाखापट्टनम में आयोजित सब जूनियर बाक्सिंग चैंपियनशिप खेलकर लौटी है। शुक्रवार की शाम वह करीब चार बजे अपने दोस्त के साथ महाराणा प्रताप नगर से गुजर रही थी। तभी विजय नगर में रहने वाला आकाश सक्सेना अपने दो साथी राज जादौन और मोंटी चौहान के साथ एक्टिवा से वहां जा पहुंचा और खिलाड़ी को रास्ते में रोक कर धमकाने लगा। खिलाड़ी ने इसका विरोध किया तो आकाश ने कमर से कट्टा निकालकर फायर कर दिए। गोली की आवाज सुन आसपास के लोग वहां पर एकत्रित हो गए, जिन्हें देख बदमाश भाग गए। खिलाड़ी ने इसकी शिकायत झांसी रोड थाना पहुंचकर की। पुलिस ने तत्काल एक्शन लेते हुए उसी रात मोंटी चौहान को दबोच लिया। उसे शनिवार को न्यायालय के आदेश पर जेल भेज दिया। जबकि आकाश और राज जादौन को बाद में ।पकड़ा। आकाश। और मोंटी। ने पुलिस को बताया कि नाबालिग खिलाड़ी दोस्त के साथ जा रही थी। पुलिस ने घटना स्थल से करीब 500 मीटर तक दोनों बदमाशों का जुलूस भी निकाला।

घटना स्थल पर सीन रीक्रिएट कराने के लिए बदमाशों को लेकर जा रहे थे। महाराणा प्रताप कालोनी के पास वाहन खराब हो गया तो घटना स्थल तक बदमाशों को पैदल लेकर जाना पड़ा। उनका कोई जुलूस नहीं निकाला गया।

संजीव नयन शर्मा, थाना प्रभारी झांसी रोड

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close