Gwalior Education News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। विद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया सोमवार से शुरू होने जा रही है। लोक शिक्षण संचालनालय के आदेशानुसार प्रवेश प्रक्रिया कक्षा 9वीं से 12वीं तक के लिए आयोजित की जाएगी। हर साल प्रवेश प्रक्रिया अप्रैल माह से शुरू हो जाती थी, लेकिन कोरोना संक्रमण की वजह से सत्र 2021-22 देरी से शुरू हो रहा है। इसके साथ ही सत्र 2020-21 के लिए किसी भी तरह की प्रवेश प्रक्रिया आयोजित नहीं की गई थी, लेकिन इस सत्र को कवर करने के लिए प्रवेश प्रक्रिया 30 जून तक होने के बाद जुलाई माह से संभवता विद्यालय री-ओपन किए जा सकते हैं। एडीपीसी अशोक दीक्षित ने बताया कि प्रवेश प्रक्रिया के साथ ही सोमवार से ही नए सत्र के लिए कक्षाएं आनलाइन शुरू की जाएंगी। विद्यार्थियों का पढ़ाई को लेकर नुकसान न हो इसको ध्यान में रखते हुए डीजीलेप व दूरदर्शन मप्र भोपाल के माध्यम से विद्यार्थियों की पढ़ाई 15 जून से शुरू की जाएगी। साथ ही शिक्षक अपने स्तर पर ही आनलाइन कक्षा पूर्व की तरह दे सकेंगे।

आरटीई के तहत विद्यार्थियों का नहीं होगा नुकसान: एपीसी हरिओम शर्मा ने बताया कि सत्र 2020-21 में प्रवेश नहीं हो पाए थे, जिसकी वजह से विद्यार्थियों की उम्र के हिसाब से उन्हें आरटीई के तहत 2021-22 सत्र के लिए प्रवेश दिया जाएगा। यहां बता दें कि 25 प्रतिशत आरटीई के तहत प्रवेश दिया जाता रहा है, लेकिन इस बार उनका नुकसान नहीं होगा। उदाहरण से समझें 2020 में आपके बच्चे की उम्र पांच साल की थी जिसको पहली क्लास में 2020 में प्रवेश दिलाना था, अब जब प्रवेश प्रक्रिया हुई नहीं थी, अब वो बच्चा छह साल का हो गया होगा। उसकी उम्र को देखते हुए बच्चे को प्रवेश कक्षा दूसरी में दिया जाएगा। इसका मतलब उनका नुकसान नहीं होगा। उम्र के हिसाब से कक्षा प्रमोट कर दी जाएगी। आरटीई का पिछले साल में सेशन जीरो हो गया था अब उसे जीरो न रखते हुए प्रवेश प्रक्रिया की जाएगी।

विद्यालय में एक स्लॉट में 25 विद्यार्थियों को प्रवेशः प्रवेश प्रक्रिया के लिए विद्यालयों में ज्यादा भीड़ न हो इसके लिए एक स्लॉट में 25 विद्यार्थियों को ही परिसर में प्रवेश दिया जाएगा। किसी भी कक्ष में पांच से अधिक बच्चों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों की टीसी उपलब्ध नहीं की जाएगी। मार्कशीट के आधार पर ही 9वीं कक्षा में प्रवेश दिया जाएगा। साथ ही 9वीं कक्षा के उत्तीर्ण विद्यार्थियों को 10वीं कक्षा में प्रवेश दिया जाएगा। पुरानी पुस्तकें जो विद्यालय से दी गई थीं उन्हें जमा करनी होंगी।

उत्कृष्ट और मॉडल विद्यालयों में खाली सीटों पर 16 जून को प्रवेशः उत्कृष्ट विद्यालय और मॉडल स्कूल के प्रवेश के लिए राज्य स्तर पर प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है जो कि अप्रैल माह में आयोजित की गई थी। उसके रिजल्ट के आधार पर ही विद्यार्थियों को प्रवेश दिया जाएगा। वहीं खाली सीट्स के लिए विद्यार्थियों को मेरिट के आधार पर 16 जून को प्रवेश दिया जाएगा। 11वीं कक्षा में प्रवेश लेने के लिए 10वीं का परीक्षा परिणाम जुलाई माह के पहले सप्ताह में घोषित किया जाएगा। जिसके बाद विद्यार्थियों को 11वीं में प्रवेश अंकों के आधार पर दिया जाएगा।

ग्वालियर जिले में हुए आरटीई के तहत प्रवेशः

सत्र 2019 से 2020

विद्यालय: 1225

सीट्स: 10904

एडमिशन: 4000

सत्र 2020-2021

ग्वालियर जिले में हुए आरटीइ के तहत प्रवेशः

सत्र 2021 से 22

विद्यालय: 1303

सीट: 10899

एडमिशन: 14 जून से शुरू होगी प्रक्रिया

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags