Gwalior Education News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कृषि कॉलेज के छात्रों ने मंगलवार को केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के बंगले पर धरना दिया। बंगले पर ही छात्रों ने अपने खून से राष्ट्रपति और सुप्रीम कोर्ट के जज के लिए पत्र लिखा। पत्र में लिखा गया कि न्याय दो या फिर इच्छा मृत्यु की इजाजत दो। छात्र नेता सुनील उपाध्याय का कहना है कि यह पत्र राष्ट्रपति और सुप्रीम कोर्ट के जज को स्पीड पोस्ट के माध्यम से पहुंचाए जाएंगे। केंद्रीय मंत्री बंगले पर नहीं मिले पर उनके निज सचिव ने 11 मार्च को केंद्रीय मंत्री से मुलाकात करने की बात कही है। छात्र 11 मार्च को केंद्रीय मंत्री से मुलाकात कर उनसे कृषि विस्तार अधिकारी व कृषि विकास अधिकारी की परीक्षा में हुई गड़बड़ी की निष्पक्ष जांच की मांग करेंगे और परीक्षा रद कराकर फिर से परीक्षा कराने की मांग रखेंगे। गौरतलब है कि फरवरी में ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी व कृषि विकास अधिकारी की परीक्षा हुई थी। जिसमें उन छात्रों ने टॉप किया, जिन्होंने बीएससी में आठ साल पास होने में लगा दिए और एमएससी चार साल में पूरी नहीं कर सके। ऐसे छात्रों को पेपर लीक हुआ इसलिए परीक्षा रद कर फिर से कराई जाए।

क्या है मामलाः कृषि विकास अधिकारी की परीक्षा में पास हाेने वालाें में अधिकांश छात्र ग्वालियर चंबल संभाग के हैं आैर ग्वालियर के कृषि महाविद्यालय के हैं। इस परीक्षा में गड़बड़ी के आराेप लगने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चाैहान ने जांच के भी आदेश दिए हैं। इस मुद्दे काे लेकर कृषि कालेज के छात्र काफी समय से आंदाेलन कर रहे हैं।

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags