Gwalior Education News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रुस्तमजी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में पांच दिवसीय फैक्ल्टी डेवलेपमेंट प्रोग्राम का आनलाइन शुभारंभ मंगलवार को किया गया। इस प्रोग्राम में देश के विभिन्न महाविद्यालय एवं औद्योगिक संस्थान से फैकल्टी जुड़़े। पहले दिन आगरा से हिंदुस्तान कॉलेज के डायरेक्टर डा.राजीव कुमार उपाध्याय ने एडिटिव मैन्युफैक्चरिंग व ट्रेडिशनल मैन्युफैक्चरिंग से अवगत कराया। साथ ही उन्होंने ह्यूमन इंटेलीजेंस की महत्ता बताते हुए कॉन्ससियस एवं सब कॉन्ससियस माइंड की कार्यप्रणाली पर प्रकाश डाला। जोधपुर से एमवीएम कॉलेज के असिस्टेंट प्रो.कैलाश चौधरी ने थ्रीडी प्रिंटिंग मशीन की संपूर्ण कार्य प्रणाली एवं उपयोगिता को समझाया। डा.गौवरीपति रॉव ने मेट लैब सॉफ्टवेयर की मदद से मेकेनिस्म के मूवमेंट को ध्यान में रखकर उसके पार्ट्स के डिजाइन पर व्याख्यान दिया। इस दौरान आरजेआइटी की प्राचार्य डा.अंजना गोयल मौजूद रहे।

इंजीनियरिंग डिजाइन में विद्यार्थी बना सकते हैं भविष्यः विक्रांत ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशंस में बीटेक व डिप्लोमा (मैकेनिकल, इलेक्ट्रीकल व इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग ब्रांच) के विद्यार्थियों के लिए करियर इन इंजीनियरिंग डिजाइन विषय पर वेबिनार का आयोजन किया गया। वेबिनार के मुख्य वक्ता के रूप में राजस्थान से इंफीलीग मोटर स्पोर्ट्स और प्रेसीडेंट, स्टार्टअप इनोवेशन सेल के डायरेक्टर पवन कुमार तिवारी व संस्थान के पूर्व इंजीनियर विद्यार्थी आषीश श्रीवास्तव मौजूद रहे। उन्होंने छात्रों को डिजाइनिंग में अपना स्वर्णिम भविष्य बनाने के फायदे बताए। उन्होंने प्रतिभागी छात्र व छात्राओं को वेबिनार के माध्यम से डिजाइनिंग के क्षेत्र में करियर निर्माण संबंधी विभिन्न विकल्प व रास्तों के बारे में विस्तार पूर्वक बताया। इस अवसर पर विक्रांत समूह के चेयरमैन आरएस राठौर, मैनेजिंग डायरेक्टर (इंदौर) से नितिन सिंह तोमर, सचिव विक्रांत सिंह राठौर, प्राचार्य प्रो. आनंद बिसेन, मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभागाध्यक्ष प्रो. सतीश शर्मा आदि उपस्थित थे।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local