Gwalior News: बलबीर सिंह, ग्वालियर नईदुनिया। शहर में मेंटेनेंस को लेकर कितनी लापरवाही बरती जा रही है, इसका अंदाजा शुक्रवार को ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के रियलटी चैक से लगा सकते हैं। बिजली कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक कार्यालय के बाहर लगे ट्रांसफार्मर पर ऊपर तक बेल चढ़ गई थी। इससे लाइन में फाल्ट भी आ रहे थे। इसे देखकर ऊर्जा मंत्री खुद नसेनी(सीढ़ियां) लगाकर पोल पर चढ़ गए। उन्होंने ट्रांसफार्मर व तारों से बेल को हटाया। हाईटेंशन लाइन मेंटेनेंस संभाग के प्रबंधक व सहायक प्रबंधक पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

ऊर्जा मंत्री शहर में निरीक्षण के लिए निकले थे। मोतीझील रेलवे क्रासिंग के पास लाेगाें ने मंत्री के काफिले काे राेक लिया आैर अपनी समस्या बताने लगे। मंत्री गाड़ी रोककर लोगों की समस्या सुन ही रहे थे कि तभी उनकी नजर ट्रांसफार्मर व पोल पर चढ़ी बेल पर गई। यह हालत देख मंत्री ने खासी नाराजगी जाहिर की। मंत्री के नाराज हाेने की जानकारी लगने पर बिजली कंपनी का स्टाफ भी पहुंच गया। ट्रांसपोर्ट नगर का लाइन स्टाफ नसेनी लेकर मौके पर पहुंचा। उप महाप्रबंधक पीके हजाले भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने लाइन को बंद कराया। मंत्री दस्ताने पहनकर पोल पर चढ़ गए। उन्होंने पूरी बेल को नीचे उतारा। ये बेल फाल्ट व ट्रिपिंग का कारण बन रही थी।

अप्रैल में हुआ था मेंटेनेंस

-ऊर्जा मंत्री ने जिस ट्रांसफार्मर व लाइन की बेल को उतारा, उस लाइन का मेंटेनेंस का कार्य अप्रैल में किया गया था। लाइन का मेंटेनेंस करने के लिए लोगों को चार घंटे तक बिजली कटौती का सामना करना पड़ा था।

- मेंटेनेंस के दौरान तारों से टकराने वाली पेड़ों की टहनियां, बेलों को उतारा जाता है। साथ ही जंपर टाइट किए जाते हैं। ट्रांसफार्मरों का तेल कम हो गया हाे ताे उसे भी भरा जाता है।

- मेंटेनेेंस के लिए एचटी मेंटेनेंस के नाम से अलग से संभाग है। इसी संभाग की मेंटेनेंस की जिम्मेदारी है।

-इस फीडर का मेंटेनेंस किया जा चुका था, उसके बाद भी बेल ऊपर तक चढी हुई थी। बारिश में ये बेल फाल्ट व ट्रिपिंग का कारण बनती है।

मुख्य महाप्रबंधक करेंगे निगरानीः शहर में बढ़ रही ट्रिपिंग व फाल्ट को लेकर ऊर्जा मंत्री ने भोपाल से लौटने के बाद ग्वालियर के अधिकारियों की क्लास ली थी। ट्रिपिंग व फाल्ट को लेकर जो डेटा पेश किया जा रहा था, उसमें कई झूठ पकड़ लिए। उन्होंने नाराजगी जताते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि फाल्ट व ट्रिपिंग बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मुख्य महाप्रबंधक राजीव गुप्ता को फाल्ट व ट्रिपिंग की निगरानी की जिम्मेदारी साैंपी है। साथ बिजली कंपनी ने स्थानीय स्तर पर हेल्प लाइन नंबर व सहायक प्रबंधकों के नंबर जारी किए हैं। उपभोक्ता इन पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। शिकायत का तत्काल निराकरण कराना होगा।

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags