ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। मुरैना में जहरीली शराब से 21 लोगों की मौत के बाद अब आबकारी विभाग जागा है। हालांकि आबकारी विभाग के पास कंट्रोल रूम था, जहां पर अवैध शराब की सूचना कोई भी दे सकता था। लेकिन वह पूरी तरह से एक्टिव नहीं था। लेकिन मुरैना की घटना के बाद विभाग की नींद टूटी है और कंट्रोल रूम को एक्टिव किया है। साथ ही लोगों से अपील की है कि वे अवैध शराब बिकने की सूचना कंट्रोल रूम में दें। सूचना मिलने के बाद तुरंत कार्रवाई की जाएगी।

आबकारी विभाग ने आमजन से अवैध शराब की खरीदी-बिक्री की रोकथाम में सहयोग करने की अपील की गई है। सहायक आयुक्त आबकारी द्वारा जिलेवासियों से आग्रह किया गया है कि जिले में कहीं भी यदि अवैध रूप से शराब की खरीदी-बिक्री की जानकारी मिले तो उसकी सूचना आबकारी विभाग के नियंत्रण कक्ष में जरूर दें। सहायक आबकारी आयुक्त कार्यालय में स्थित नियंत्रण कक्ष का टेलीफोन नम्बर 07512457220 है। बीते दिनों मुरैना जिले व उज्जैन जिले में अवैध जहरीली शराब पीने से हुई दुखद घटनाओं को ध्यान में रखकर आबकारी विभाग द्वारा ग्वालियर जिले में विशेष सतर्कता बरती जा रही है। विभागीय अमले को अवैध शराब की खरीदी-बिक्री को कड़ाई से रोकने के निर्देश दिए गए हैं।

अब बरती जा रही है सतर्कता: ग्वालियर चंबल अंचल में अवैध शराब बिकने की रोजाना खबरें आती थी और पुलिस लगातार अवैध शराब पकड़ भी रही थी। लेकिन आबकारी विभाग इस ओर से अपनी आंखों को मूंदे हुए था। यानि जो कार्रवाई आबकारी विभाग को करनी थी वह पुलिस कर रही थी। ऐसे में जब मुरैना में जहरीली शराब पीने के बाद हुई 21 लोगों की मौत के बाद जब विभाग के अफसर सस्पेंड हुए तो विभाग ने कंट्रोल रूम एक्टिव कर दिया है।

Posted By: anil.tomar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस