-डायल-100 प्रभारी दीपक भार्गव की बेटी-दामाद के साथ हुई पनिहार टोल पर घटना

Gwalior FASTag Fraud News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। पनिहार टोल प्लाजा पर ऐसे वाहन के फास्टैग को ब्लैक लिस्टेड बता दिया जिसपर कभी फास्टैग लिया ही नहीं गया था। ग्वालियर के डायल-100 प्रभारी दीपक भार्गव की बेटी-दामाद गुरूवार को उज्जैन के लिए जा रहे थे तभी पनिहार टोल प्लाजा पर वाहन को रोका गया। यहां स्टाफ ने बताया कि आपकी गाडी का फास्टैग ब्लैकलिस्टेड हो चुका है। बेटी-दामाद चौंक गए और बताया कि इस गाडी पर तो कभी फास्टैग लिया ही नहीं गया। टोल स्टाफ ने सिस्टम पर दिखाया कि मार्च 2021 में शुभम शर्मा नाम के व्यक्ति ने फास्टैग इश्यू कराया है। इसके बाद वे टोल से निकल गए और पूरी घटना डायल-100 घर पर बताई। इस मामले में डायल-100 प्रभारी ने पूरी घटना सायबर सेल को बताई और शिकायत की।

डायल-100 प्रभारी दीपक भार्गव ने बताया कि दामाद अमर मिश्रा,उनके भाई एसआई अजय मिश्रा और बेटी सभी गुरूवार को उज्जैन जा रहे थे। दोपहर करीब एक बजे पनिहार टोल प्लाजा पर कार क्रं एमपी07सीएच3623 को रोका गया। टोल स्टाफ ने बताया जब फास्टैग ब्लैक लिस्टेड की बात बताई तो सिस्टम पर जाकर चेक कराया गया। एक मार्च 2021 को शुभम शर्मा नाम के युवक ने इस गाडी नंबर का फास्टैग आइसीआइसीआइ बैंक के जरिए इश्यू कराया है। कार पर फास्टैग नहीं था तो टोल प्लाजा ने नंबर प्लेट रीडर के आधार पर ब्लैक लिस्टेड वाली जानकारी दी।

बडा घालमेल होने की आशंका

डायल-100 प्रभारी की गाडी के साथ जो हुआ, ऐसे और भी केस हो सकते हैं। दूसरे की गाडी नंबर पर फास्टैग इश्यू कराना और वाहन मालिक को पता भी न होना वाकई हैरानी की बात है। इस मामले में डायल 100 प्रभारी सायबर सेल के जरिए विस्तृत जांच कराने की मांग भी करेंगे जिससे दूसरे लोग ठगने से बच सकें।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local