ग्वालियर,(नईदुनिया प्रतिनिधि)। तीन साल के इंतजार के बाद गणेश उत्सव पर बाजार में उठाव आने से व्यापारी उत्साहित हैं। इसके चलते नवदुर्गा,दीपावली की तैयारियां अभी से शुरू हाे गई हैं। व्यापारियाें काे फेस्टिवल सीजन से खासी उम्मीद है, उनका मानना है कि दो साल की मंदी से इस बार निजात मिल जाएगी और बाजार में व्यापार भरपूर होगा। सोना-चांदी अभी से ही मंहगा होने लगा है। हालांकि मेटल व प्लास्टिक में मंदी से ग्राहकों के लिए खरीदारी जेब के बजट में रहेगी। इधर कपड़ा बाजार में भी आफर लोगों को अपनी तरफ आकर्षित कर रहे हैं। व्यापारियों का कहना है कि इस बार त्योहार पर ग्राहकों को आफर खूब मिलने वाले हैं, जिससे बाजार गति पकड़ेगा। गौरतलब है कि कोरोना के चलते पिछले लोगों के काम धंधे मंदे हुए, जिससे बाजार भी प्रभावित रहा है। इस बार व्यापारियों में भरपूर उत्साह देखा जा रहा है।

चांदी में एक हजार का उछालः पिछले एक माह से चांदी के दाम टूट रहे थे, लेकिन मंगलवार को चांदी के दाम में अचानक से उछाल आ गया। चांदी का दाम सोमवार को 55 हजार रुपये था, जो मंगलवार को 56 हजार रुपये प्रति किलो हो गया। जिससे लोगों में चांदी की लेवाली बढ़ गई। व्यापारियों का कहना है कि अगले 15 दिन बाजार कमजोर जरूर रहेगा, जो लाेगाें के लिए निवेश का अच्छा वक्त साबित हाे सकता है। हालांकि सोने का दाम सेामवार को 51800 थे, जिसमें 200 रुपये की तेजी आई और सोने का भाव मंगलवार को 52000 रुपये प्रति दस ग्राम हो गया।

मेटल व प्लास्टिक में मंदीः मेटल जैसे स्टील,तांबा,पीतल और एल्युमीनियम के कच्चे माल की दर में पिछले दो महीने में 15 से 20 फीसद की कमी आई है। बर्तन कारोबारियों का कहना है कि स्टील,तांबा,पीतल और एल्युमीनियम के बर्तन के दाम में भी गिरावट आई है। कड़वे दिन के बाद हो सकता है कि बर्तन बाजार में तेजी आए। इसी उम्मीद में व्यापारियाें ने त्योहार को लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं। गणेश उत्सव में बर्तन बाजार में लोग खरीदारी करने के लिए पहुंच रहे हैं, जिससे बर्तन बाजार में रौनक दिखाई दे रही है। इधर प्लास्टिक के कच्चे माल की कीमत भी कम हुई है, जिससे प्लास्टिक के लोकल ब्रांड का सामान की दर में कमी आई है। हालांकि ब्रांडेड कंपनियों ने अभी दाम नहीं गिराए हैं।

वर्जन-

गणेश उत्सव के दौरान चांदी की लेवाली बढ़ी है। जिससे उसके भाव में तेजी दर्ज की गई, हल्की तेजी सोने में भी आई। इस बार त्योहार को लेकर व्यापारी तैयारियों में पहले से ही जुटे हैं,आशा है कि इस बार पिछले दो साल से जो बाजार में मंदी है, वह समाप्त होगी और व्यापार अच्छा चलेगा।

पुरुषोत्तम जैन , अध्यक्ष सोना चांदी व्यवसायी संघ लश्कर

वर्जन-

मेटल व प्लास्टिक के बर्तन के दाम में पिछले दो माह में 15 से 20 फीसद की कमी आई है। उसका कारण है कि कच्चा माल सस्ता हुआ है। लोग खरीदारी तो कर रहे हैं, पर त्योहार के समय बाजार में उठाव तेजी से आएगा। इसलिए व्यापारी भी इस वक्त माल भरने में लगे हुए हैं।

माधव अग्रवाल, बर्तन कारोबारी सराफा बाजार

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close