ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। राम मंदिर चौराहे के पास तीन मंजिला इमारत के ग्राउंड फ्लोर पर शनिवार तड़के पांच बजे भीषण आग लग गई। ग्राउंड फ्लोर पर इलेक्ट्रिकल और कपड़े का शोरूम बना हुआ था, देखते ही देखते आग की लपटों से शोरूम घिर गए। आग लगने से इलेक्ट्रिकल और कपड़े के शोरूम में रखा पूरा सामान जलकर खाक हो गया। आग लगने से काफी नुकसान हुआ है। फायर ब्रिगेड की 16 गाड़ियां पहुंची, इसके बाद करीब चार घंटे में आग पर काबू पाया जा सका। आग पूरी बिल्डिंग में भड़क पाती, इससे पहले ही आग पर काबू पा लिया गया।

राम मंदिर चौराहे के सामने कैलाश टाकीज की ओर जाने वाले रास्ते पर सुनील कोहली रहते हैं। सुनील कोहली की तीन मंजिला इमारत है, जिसमें पीछे की ओर उनका घर है। जबकि आगे उन्होंने दुकानें बनाई हुई हैं। ग्राउंड फ्लोर पर सुनील का ही स्टार लाइट के नाम से इलेक्ट्रिकल उपकरणों का शोरूम है। यहां उन्होंने वीरेंद्र शर्मा को भी दुकान किराए पर दी हुई है, जिसमें वीरेंद्र का कपड़े का शोरूम है। पहली मंजिल पर रायल फर्नीचर के नाम से फर्नीचर की दुकान है। शनिवार सुबह करीब पांच बजे अचानक आग लग गई। आग की लपटें और धुंआ जब बाहर आने लगा और इलेक्ट्रिकल सामान जलने से तेज आवाज आने लगीं तो सुनील के पड़ोसी जागे। पड़ोसी ने देखा तो आग की लपटें उठ रही थीं। उन्होंने तत्काल सुनील को फोन किया, जैसे ही सुनील को पता लगा तो उन्होंने फायर ब्रिगेड को सूचना दी। कुछ ही देर में फायर आफीसर विवेक दीक्षित दो गाड़ियों के साथ यहां पहुंचे। इसके बाद आग बुझाने के लिए पानी फेंकना शुरू किया गया।

आग अंदर पूरे सामान में लग चुकी थी, इसके चलते एक के बाद एक 16 गाड़ियां चार घंटे में आई। तब जाकर सुबह करीब 9 बजे आग पर काबू पाया जा सका। अंदर इलेक्ट्रिकल और कपड़े के शोरूम में रखा पूरा माल जलकर खाक हो गया। सुबह करीब 9 बजे जब आग पर काबू पाया जा सका, इसके बाद फायर ब्रिगेड का अमला यहां से रवाना हुआ। फायर आफीसर विवेक दीक्षित ने बताया कि आग लगने की वजह अभी तक शार्ट सर्किट लग रही है। आग कहां से शुरू हुई, यह स्पष्ट नहीं हो सका। लेकिन आशंका है कि आग इलेक्ट्रिकल शोरूम से उठी और फिर अंदर तक फैल गई।

वर्जन-

मैं परिवार के साथ अंदर अपने घर में ही सो रहा था। सुबह ठीक 5.05 बजे मेरे पड़ोसी ने मुझे फोन किया कि आग की लपटें उठ रही हैं। मैं दौड़कर बाहर पहुंचा तो आग की भयानक लपटें उठ रही थीं, पूरा ग्राउंड फ्लोर धुंए से भर गया था। मैं और मेरा पूरा परिवार बाहर भागे। अंदर सामान जलने की बहुत तेज आवाज आ रही थी। मैंने तत्काल 101 नंबर डायल किया और फायर ब्रिगेड को सूचना दी। सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की गाड़ियां आना शुरू हो गई। करीब चार घंटे में आग पर काबू पाया जा सका। आग लगने से मेरा और किराएदार का पूरा सामान जल गया। मेरे शोरूम में करीब 25 लाख रुपये का सामान रखा हुआ था, जबकि किराएदार का कहना है उसके यहां करीब एक करोड़ रुपये कीमत का कपड़ों का स्टाक था। मेरे शोरूम का इंश्योरेंस है।

सुनील आहूजा, संचालक, स्टार लाइट शोरूम

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close