Gwalior firing News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। हजीरा थाना अंतर्गत इंटक मैदान में सोमवार रात के समय चार दोस्त बैठकर पार्टी कर रहे थे। इसी दौरान उनके बीच पुराने विवाद को लेकर बहस छिड़ गई। इसके बाद एक दोस्त ने कमर से कट्टा निकालकर दूसरे साथी को गोली मार दी। इसके बाद वह कट्टा हवा में लहराता हुआ भाग निकला। घायल को उसके अन्य दोस्त जेएएच हास्पिटल लेकर पहुंचे, जहां उसे भर्ती कर दिया। घायल अब खतरे से बाहर है। सूचना मिलने पर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ धारा 307 के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है। यह था पूरा मामला : लाइन नंबर दो बिरला नगर के रहने वाले निखिल चौहान उम्र 22 साल और अजय सेंगर अपने दोस्तों के साथ इंटक मैदान में पार्टी कर रहे थे। अजय और निखिल के बीच दो साल पहले किसी बात को लेकर विवाद हुआ था। निखिल का कहना था कि दो साल पहले अजय ने उसकी पुलिस में शिकायत कर दी थी। हालांकि बाद में राजीनामा हो गया था और दोनों फिर से दोस्त बन गए। रात में वही पुराने विवाद को लेकर बातचीत शुरू हुई तो बहस होने लगी। इसी बीच अजय ने गुस्से में आकर तमंचे से उस पर फायर पर दिया।

पुराने विवाद को लेकर दो दोस्तों के बीच रात करीब साढ़े आठ बजे इंटक मैदान में विवाद हुआ। इसमें अजय सेंगर नाम के युवक ने गोली मार दी। पीड़ित अस्पताल में भर्ती है। पीड़ित की शिकायत पर आरोपित के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही है।

संतोष भदौरिया, थाना प्रभारी हजीरा

महिला ने कराया तीन लोगों पर धोखधाड़ी का मामला दर्ज

जनकगंज थाना अंतर्गत महिला की शिकायत पर तीन लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। पीड़िता ने बताया कि उसके साथ करीब सवा लाख रुपये की ठगी की गई है। जनकगंज थाना प्रभारी आलोक परिहार ने बताया कि आपटे की पायगा निवासी अर्चना पत्नी सचिन जैन ने धोखाधड़ी की शिकायत की थी। जिसमें सीएसपी द्वारा की गई जांच में तीन लोगों को दोषी पाया गया। असल में अर्चना पत्नी सचिन जैन ने रिलेक्सो कंपनी की डीलरशिप ले रखी थी। जिसके लिए उनके द्वारा पांच लाख रुपये की राशि जमा की थी। आरोपितों की तलाश जारी है।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close