Gwalior Fly over News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। केंद्र सरकार की सेतुबंधन परियोजना के अंतर्गत शहर में प्रस्तावित दो फ्लाईओवर के सर्वे का काम इसी माह शुरू कर दिया जाएगा। फ्लाईओवर की डीपीआर (डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट) तैयार करने के लिए चयनित की गई चैन्नई की कंपनी एलएनटी इंफ्रास्ट्रक्चर इंजीनियरिंग लिमिटेड ने ग्वालियर में आमद दर्ज करा दी है और प्राथमिक स्थल निरीक्षण कर लिया है। कंपनी को 3.59 करोड़ रुपये में प्रदेश के 10 जिलों में प्रस्तावित 21 फ्लाईओवर की डीपीआर तैयार करनी है। शहर में आमखो से महाराज बाड़ा और हजीरा से चार शहर का नाका तक फ्लाईओवर तैयार किए जाने हैं। अब विस्तृत सर्वे शुरू कराया जाएगा। कंपनी को मार्च तक डीपीआर तैयार कर मध्य प्रदेश सड़क विकास निगम (एमपीआरडीसी) को सौंपना है।

वहां से इसे केंद्र सरकार को भेजा जाएगा। निर्माण के लिए टेंडर प्रक्रिया अप्रैल माह में की जाएगी और मई महीने तक निर्माण कार्य शुरू करा दिया जाएगा। एमपीआरडीसी ने गत सितंबर माह में इन फ्लाईओवर की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करने के लिए एजेंसी नियुक्त करने के 29 अगस्त को टेंडर किए थे। गत 18 अक्टूबर को टेंडर खोलकर कंपनियों का तकनीकी और वित्तीय मूल्यांकन शुरू कराया गया था। इसके बाद चेन्नई की फर्म को फाइनल कर दिया गया है। कंपनी ने प्राथमिक स्थल निरीक्षण कर लिया है और इसी माह सर्वे की शुरुआत हो जाएगी। ग्वालियर में आमखो बस स्टैंड से गोरखी महाराज बाड़ा और हजीरा चौराहे से चार शहर का नाका तक फ्लाईओवर बनेंगे। ग्वालियर के फ्लाईओवर की अनुमानित लागत लगभग 100 करोड़ रुपये बताई जा रही है। इसमें आमखो बस स्टैंड से गोरखी तक एक हजार मीटर और हजीरा चौराहे से चार शहर का नाका फ्लाईओवर की लंबाई 1025 मीटर होगी।

शहर को जाम से मिलेगी मुक्ति इन फ्लाईओवर की ऊंचाई पांच से आठ मीटर रखे जाने की संभावना है, ताकि नीचे भी यातायात आसानी से गुजर सके। वर्तमान में आमखो से कंपू के बीच लक्कड़खाना पर जाम के हालात बने रहते हैं। वहीं माधौगंज चौराहे पर भी वाहन फंसते हैं। इसी प्रकार चार शहर का नाका चौराहे पर भी दिनभर जाम के हालात बने रहते हैं। यहां टैंपो आदि खड़े होने के कारण वाहन फंसते रहते हैं। ये फ्लाईओवर तैयार होने से वाहन चालकों को विकल्प मिलेंगे और जाम से मुक्ति मिल सकेगी।

इन शहरों में भी बनेंगे फ्लाईओवर

इंदौर के देवास नाका, सत्य साईं चौराहा, मरीमाता चौराहा, आइटी चौराहा और मूसाखेड़ी चौराहा पर फ्लाईओवर तैयार किए जाएंगे। भोपाल में हाट से छह नंबर बस स्टाप, आइएसबीटी से रचना नगर और अयोध्या बायपास से करोंद कर कुल तीन फ्लाईओवर बनेंगे। सागर में बायपास रोड, सिविल लाइंस से मकरोनिया रोड, पीली कोठी से नगर निगम कार्यालय और सोनार नदी से गड़ेरी नदी तक, जबलपुर में पेंटानिका चौराहे के पास और आधारताल चौक से सुहागी महाराजपुरा तक फ्लाईओवर बनाए जाएंगे। रतलाम, खंडवा, धार, छतरपुर और विदिशा जिले में एक-एक फ्लाईओवर तैयार किए जाएंगे।

कंपनी के प्रतिनिधियों ने ग्वालियर आकर प्राथमिक तौर पर स्थल देख लिए हैं। अब वे मार्च तक डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करेंगे और अप्रैल माह में टेंडर प्रक्रिया की जाएगी।

राजीव श्रीवास्तव, संभागीय प्रबंधक एमपीआरडीसी

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close