Gwalior Fraud News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। खराब माल वापस न लेने व पैसा वापस न करने को लेकर दाल बाजार के व्यापारी ने एक कंपनी के संचालकों के खिलाफ अमानत में ख्यानत का मामला दर्ज कराया है। व्यापारी की शिकायत पर कोतवाली थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

कोतवाली थाना पुलिस के मुताबिक दाल बाजार के व्यापारी राजकुमार गुप्ता परिवार प्राइवेट लिमिटेड के नाम से कंपनी संचालित करते हैं। राजकुमार गुप्ता ने शिकायत करते हुए बताया कि अगस्त 2020 में उन्होंने रुड़की उत्तराखंड की वाउंटी फूड कंपनी के बीच अनुबंध किया था। वाउंटी फूड कंपनी अचार, सोस व अन्य खाद्य सामग्री सप्लाई करती है। उनके बीच अनुबंध हुआ था कि पूरे प्रदेश की सीएंडएफ उनके पास रहेगी। प्रदेश भर में उनके द्वारा ही माल की सप्लाई की जाएगी। यदि कोई माल एक्सपायर होता है तो उसकी वापसी कर नया माल दिया जाएगा। अनुबंध के तौर पर बैंक के माध्यम से चार लाख रुपये बतौर जमानत वाउंटी कंपनी को दिए गए थे। व्यापार चालू हुआ तो प्रदेश के अलग-अलग जिलों में बनाए सुपर स्टॉकिस्ट को करीब आठ लाख रुपये का माल उनके द्वारा उपलब्ध कराया गया और माल मंगवाने के लिए तीन लाख 97 हजार रुपये कंपनी को भुगतान किया गया, लेकिन माल बाजार में पूरा खपत नहीं हुआ तो वह गोदाम रखे रखे ही वह खराब हो गया। इस पर कंपनी के सेल्स ऑफिसर को माल बदलकर उपलब्ध कराने के लिए कहा गया। इस पर पूरे माल का निरीक्षण कर माल वापसी की बात हुई, लेकिन कंपनी ने न तो माल उठाया और न नया माल दिया। कई बार कंपनी के संचालक अवध कुमार, निधी मित्रा, नीलांंजन मित्रा और विनोद कुमार से बात की गई, लेकिन यह लोग माल वापसी के लिए तैयार नहीं हुए। इससे उनकी फर्म को काफी नुकसान उठाना पड़ा। इस कारण से पुलिस में शिकायत करनी पड़ी। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर वाउंटी कंपनी के संचालकों के खिलाफ अमानत में ख्यानत का मामला दर्ज कर लिया है।

वर्जन-

दाल बाजार के व्यापारी द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई है कि अनुबंध के अनुसार उत्तराखंड की कंपनी खराब माल वापस नहीं ले रही है। साथ ही जो नकद पैसा करीब आठ लाख रुपये दिया वह भी वापस नहीं कर रही है। जिसकी जांच में बात सही पाई गई तो अमानत में ख्यानत का मामला दर्ज कर लिया गया है।

राजीव गुप्ता, थाना प्रभारी कोतवाली

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local