Gwalior hawkers Zone News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर के बजारों में सडक़ किनारे तथा फुटपाट पर दुकान लगाकर करोबार करने वाली महिलाओं के लिए नगर निगम ने करीब आठ साल पहले कम्पू स्थित सैकेंड बटालियन के पास महिला हॉकर्स जोन का निर्माण कराया था। इस हॉकर्स जोन में आज तक कोई महिला दुकानदार अपनी दुकान लगाने नहीं पहुंची। लाखों रूपए खर्च करने के बाद भी यह महिला हॉकर्स जोन आज वीरान पड़ा है।

कंपू स्थित एस.ए.एफ पेट्रोल पंप के समीप स्थित महिला हॉकर्स जोन में आवारा पशु बैठते साथ ही वहां पर कचरे के ढेरों के अलावा कुछ नहीं दिखा। हॉकर्स जोन के बाहर रोड पर ठेले लगते हैं। इसके कारण कई बार वहां पर ट्रेफिक जाम होता है। वहीं असामाजिक तत्व वहां जुआ खेलते हैं और नशा करते हैं। लाखों की लागत से बने हॉकर्स जोन में किया गया निर्माण कार्य भी कबाड़ (कंडम) हालात में पहुंच गया है।इस हॉकर्स जोन का निर्माण पूर्व महापौर समीक्षा गुप्ता ने कराया था। इसका उद्देश्य था कि कामकाजी महिलाओं के लिए अलग से हॉकर्स जोन बनाया जा सके जिससे वह आसानी से अपना व्यापार कर सकें। लेकिन उसके बाद आज तक यह महिला हॉकर्स जोन वीरान पड़ा हुआ है। महिला हॉकर्स जोन में रात के समय असमाजिक तत्व बैठकर शराब पार्टी करते हैं साथ ही अन्य प्रकार के नशे का सेवन भी यहां पर किया जाता है। यहां पर हॉकर्स जोन की सुरक्षा के लिए कोई भी व्यवस्था नहीं है। जबकि यह बेहतरीन स्थान है जहां पर महिलाएं अपना रोजगार कमा सकती हैं।

रमौआ बांध को पर्यटन स्थल बनाने के दिए निर्देश़

रमौआ बांध को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाए। यह निर्देश नगर निगम आयुक्त किशोर कान्याल ने बांध का निरीक्षण करते हुए दिए। मुरार नदी को नया जीवन देने के लिए नगर निगम आयुक्त ने रामौआ बांध और उसकी सहायक नदियों का निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने फूलबाग से किला गेट तक बनने वाली सड़क का भी निरीक्षण किया। वहीं शहर के विभिन्न क्षेत्रों में साफ सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्हें कई जगह गंदगी मिली। इसके चलते डब्ल्यूएचओ को कारण बताओ नोटिस जारी किया।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close