Gwalior Health News: अजय उपाध्याय. ग्वालियर। आयुर्वेद में आसाध्य रोगों का इलाज संभव है। यह बात सटीक बैठती है। क्योंकि बामौर के 78 वर्षीय किशन सिंह चौहान के पैर का 56 साल पुराना घाव का इलाज आयुर्वेद में मिल गया। जिस घाव को ठीक करने से एलोपैथी के चिकित्सकों ने हाथ खड़े कर दिए थे। उसी पुराने व जटिल घाव का इलाज आयुर्वेद से संभव हो सका। किशन सिंह के पैर के घाव का 11 महीने इलाज चला। इन 11 महीनों में से 6 महीने किशन सिंह को हर दिन बामौर से ग्वालियर आयुर्वेद अस्पताल आना पड़ता था। उन्होंने इलाज लेने में निरंतरता रखी और घाव से निजात पा ली। आज किशन सिंह की खुशी का ठिकाना नहीं है वह बार बार आयुर्वेद के इलाज व डाक्टरों की प्रशंसा करने से नहीं थकते। क्योंकि इस घाव के साथ उन्होंने अपने जीवन के 56 साल गुजारे थे। 56 साल की पीड़ा को आयुर्वेदाचार्यों ने 11 महीने समाप्त कर दी।

एनसीसी कैंप में हुआ था घाव-

किशन सिंह बताते हैं कि वह बामौर के रहने वाले हैं। वह 1964 में साइंस कॉलेज में बीएससी प्रथम वर्ष में थे। उन्हें एनसीसी कैंप सागर जाने का मौका मिला। वहां पर उनके पैर में कोई कंकड़ चुभ गया। मगर वापसी में किसी कैडेट से उनके मौजे बदल गए। जिससे घाव में संक्रमण फैल गया और वह बढ़ने लगा। तब शहर के प्रसद्धि चर्मरोग विशेषज्ञ को दिखाया। कुछ वर्ष इलाज चला तो फायदा भी मिला। पर एक रोज उनका पैर कलई (चूना दीवार पर पोतने वाला) रख गया । जिसके बाद घाव बढ़ने लगा तो कई डाक्टरों से इलाज लिया पर घाव ठीक नहीं हुआ। डाक्टरों ने घाव ठीक करने में असमर्थता जताई तो दवा लेना भी बंद कर दी।

पूरी नौकरी गुजार दी घाव के साथ-

किशन सिंह कहते हैं कि 1964 में घाव हुआ तब प्रथम वर्ष का छात्र था। उसके बाद 1968 में शिक्षक बन गया और घाव के साथ में ही वह 2005 में शिक्षा विभाग से सेवानिवृत भी हो गया। पर घाव ठीक न हुआ। मार्च 2020 में बेटा आयुर्वेद अस्पताल लेकर पहुंचा जहां जहां मुझे वर्षों की पीड़ा से राहत मिली।

वर्जन-

वृद्ध का 56साल पुराना घाव था जिसका 11 महीने इलाज चला और अब वह पूरी तरह से ठीक हो चुका है। आयुर्वेद में असाध्य रोगों का इलाज संभव है,बस इलाज लेने में निरंतरता रखी जाए।

डा.प्रवेश मिश्रा, आयुर्वेद हॉस्पिटल

Posted By: anil.tomar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags