Gwalior Health News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। फूड एंड सेफ्टी टीम मंगलवार को ट्रांसपोर्ट नगर स्थित पार्किंग नंबर छह में नमक यूनिट पर पहुंची। यहां मौके पर मिले मुनीम प्रकाश शिवहरे ने फर्म के बारे में कुछ भी नहीं बताया। यहां तक कि मालिक का नाम भी नहीं बताया। यूनिट में छह हजार कट्टे सेंधा, काला और सफेद नमक के मिले। इतनी बड़ी तादाद में नमक का स्टाक मिलने से टीम को संदेह हुआ और मैसर्स संजीव एंड ब्रदर्स यूनिट को सील कर दिया। अब मालिक को फूड सेफ्टी टीम के आफिस में उपस्थित होकर अपना पक्ष रखना होगा तभी यूनिट खुलेगी। फूड एंड सेफ्टी के अभिहीत अधिकारी डा. संजीव खेमरिया ने बताया कि मैसर्स संजीव एंड ब्रदर्स यूनिट पर रजिस्ट्रेशन व लाइसेंस संबंधी कोई दस्तावेज नहीं दिखाया गया। कारोबार के बारे में जानकारी मांगी तो मुनीम ने मना कर दिया। इसके बाद फर्म को सील कर दिया गया। वहीं शंकरपुर स्थित फर्म साईंराम ट्रेडर्स पर टीम पहुंची, जहां मालिक ओमप्रकाश मित्तल द्वारा नमकीन और पेठा बनाया जा रहा था। यहां से नमकीन व पेठा के सैंपल लिए गए। ट्रांसपोर्ट नगर स्थित फर्म ग्वालियर साल्ट एवं केमिकल पर टीम पहुंची, यहां मालिक दीपक पुरुषानी द्वारा नमक का कारोबार किया जा रहा था। यहां से काला नमक व सेंधा नमक के सैंपल लिए गए। मुरार में दूध ले जा रहे वाहन को रोका गया और मालिक हनुमान सिंह से दूध के दो सैंपल लिए गए। मुरार स्थित जैन फ्लोर मिल पर मसाले पिसाई का कार्य किया जा रहा था, जहां से हल्दी, धनिया व मिर्ची पाउडर के सैंपल लिए गए। बंशीपुरा स्थित ताज बेकरी से मालिक इरशाद शान द्वारा टोस्ट व पपड़ी बनाए जा रहे थे, जहां गंदगी मिली। पैकिंग के दौरान डेट भी नहीं डाली जा रही थी। टोस्ट के 500 पैकेट जब्त किए गए और सैंपलिंग की गई।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local