ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। हाई कोर्ट की युगल पीठ से उन नर्सिंग विद्यार्थियों को राहत मिल गई, जिनके नामांकन नहीं हो सके। कोर्ट ने अंतरिम आदेश जारी कर मेडिकल विश्वविद्यालय को लिंक खोलने के निर्देश दिए हैं। अब विद्यार्थियों के लिए लिंक खुल जाएगी और अपने दस्तावेज अपलोड कर सकते हैं।

हाई कोर्ट में नर्सिंग कालेजों ने याचिका दायर की। कालेजों की ओर से तर्क दिया गया कि सत्र 2019-20 के विद्यार्थियों का नामांकन नहीं हो सका है। विवि ने सितंबर 2021 में एक अधिसूचना जारी की थी, जिसमें लिंक खोलने के फैसले की जानकारी दी गई। इसके बाद भी लिंक नहीं खोली गई। इस संबंध में मेडिकल विवि के अधिवक्ता से सवाल किया कि लिंक खोलने में क्या दिक्कत आ रही है। जवाब मिला कि गलत प्रवेश दिए हैं, इसलिए अनुमति नहीं दे सकते हैं। कोर्ट ने अंतरिम आदेश पारित कर लिंक खोलने के निर्देश दिए हैं।

छह दिवसीय दीक्षारंभ समारोह आनलाइन शुरूः सोमवार को जीवाजी विश्वविद्यालय के इंजीनियरिंग संस्थान का नवप्रवेशित विद्यार्थियों के लिए छह दिवसीय दीक्षारंभ समारोह आनलाइन शुरू हुआ। संस्थान निदेशक डा. संजय कुमार गुप्ता ने विद्यार्थियों का स्वागत करते हुए कहा कि आप सभी में प्रतिभा है। इसका सही प्रयोग इंजीनियरिंग विधा में करें और हर चुनौती का समाधान खोजें। अभ्यास शुरू कर भविष्य के सफल उद्यमी बनें और समाज व देश विकास के सहयोगी बनें। पहले दिन डा. एबी मिर्जा, डा. अर्चना गुप्ता, संगीता शर्मा, मो. शरीफ कुर्रेशी और संतोष सेन सहित अन्य कर्मचारियों ने विद्यार्थियों को संस्थान से संबंधित जानकारी दी। संचालन शिवांगी शर्मा ने किया।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local