ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि) नवरात्र का समापन आज मंगवलवार को नवमी पर हवन-पूजन व भंड़ारों के साथ किया जायेगा। आज से पंडालों में विराजन में देवी मूर्तियों की विसर्जन का सिलसिला शुरू हो जायेगा। विजयदशमी को भी मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा। जवारों की शोभा यात्रा भी नगर में निकाली जाएगी। श्रद्धालु माता के भक्तों ने देवी मूर्तियां विराजित करके श्रद्धा भक्ति के साथ उनकी आराधना वंदना, पूजन की और अंतिम दिन विशेष हवन यज्ञ के पूर्णाहुति करके समापन करेंगे। समापन पूजा के साथ विराजमान मां आदिशक्ति दुर्गा भवानी की प्रतिमा का विसर्जन 5 अक्टूबर को किया जाएगा। भाव से श्रद्धालु नाचते गाते, विदाई गीत गाते हुए, पुष्पों और मालाओं से अबीर उड़ाते हुए मां दुर्गा भवानी को पूरे शहर, नगर, गांव की रक्षा के भाव से भ्रमण कराते हुए विदा करते हैं। इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया श्रीरामलीला में परिवार सहित आरती करेंगें। मौसम विभाग ने भी मंगलवार को बारिश होने के संकेत दिये हैं।

मौसम- मौसम विभाग ने नगर में आज मध्यम वर्षा होने की संभावना जताई है। अगर वर्षा होती है, नगर वासियों को कुछ समय के लिये गर्मी से राहत मिल सकती है।

साईं बाबा का 104 वां पुण्यतिथि समारोह आज से- ग्वालियर, साईं बाबा की 104 पुण्यतिथि एवं 34वी पालकी चल समारोह उत्सव मंगलवार से प्रारंभ होगा। इसका समापन गुरुवार को बाबा पालकी चल समारोह निकलने के साथ होगा। समारोह के पहले दिन-पुण्यतिथि का मंगलवार को प्रातः 5.30 बजे आरती के साथ प्रारंभ होगा एवम मंगल स्नान अभिषेक शहनाई बादन सत्य साई सेवा समिति द्वारा भजन एवम सुंदरकांड एवम साथ ही दैनिक पूजन पाठ किया जाएगा।

ज्योतिरादित्य सिंधिया आज परिवार सहित रामलीला में आरती करेंगे- श्री रामलीला समारोह के मुख्य सरंक्षक केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया,अपने परिवार सहित उपस्थित रहेंगे। वे सपरिवार सहित श्रीराम की लीला का दर्शन करेंगे। श्रीरामलीला में आज लक्ष्मण शक्ति तथा कुंभकरण वध का मंचन किया जायेगा।

अखंड पाठ के समापन के उपलक्ष्य में मंगलवार को चम्पाबाग बगीची में आर्यिका संघ की सानिध्य में जिनाभिषेक व शांतिधारा के बाद इंद्र प्रतिष्ठा और पंच परमेष्ठी विधान होगा। जैन समाज के प्रवक्ता सचिन जैन ने बताया कि मुनिश्री विनय सागर महाराज के मंगल प्रवचन प्रातः 9:00 बजे से माधवगंज स्थित चातुर्मास स्थल आशियाना भवन में होंगे।

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close