ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। गोंडवाना एक्सप्रेस से अपने परिजनों के साथ मथुरा से गोंदिया का सफर कर रहा छह वर्षीय मासूम कोच की इमरजेंसी खिड़की का लॉक टूटने से उसके ऊपर खडि़की गिर गई। जिससे उसके सिर व हाथ में चोट लगने से घायल हो गया। चोट की सूचना पर ट्रेन के ग्वालियर पहुंचने पर डॉक्टरों ने मासूम को अटैण्ड कर इलाज दिया। आराम मिलने के बाद परिजन मासूम को लेकर आगे को यात्रा के लिए रवाना हो गए। घटना बीती रात गोंडवाना एक्स्प्रेस के स्लीपर को एस-4 की होना गई है।

मथुरा निवासी कामता प्रसाद अपने छह वर्षीय मासूम के साथ गोंडवाना एक्सप्रेस में मथुरा से गोंदिया जाने के लिए सवार हुए थे। ट्रेन के मुरैना से निकलने के बाद कोच की इमरजेंसी विंडो का लॉक टूटते गया। जिससे खिड़की की चपेट में आने से मासूम घायल हो गया। सिर से खून निकलता देख तत्काल कोच टीटी को इसकी जानकारी परिजनों ने दी और ग्वालियर में डॉक्टर उपलब्ध कराने की बात कही। रात जब ट्रेन ग्वालियर पहुंचने पर बालक का रेल चिकित्सक ने इलाज दिया। आराम मिलने पर बालक के परिजन आगे की यात्रा पर खाना हो गए। घटना के कारण गोंडवाना एक्सप्रेस दस मिनट की देरी से ग्वालियर से झांसी के लिए रवाना हो सकी।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local