Gwalior JU News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। जीवाजी विश्वविद्यालय ने बीएससी व बीए का प्रथम वर्ष का परीक्षा कार्यक्रम तय कर लिया है। बीएससी प्रथम वर्ष की परीक्षा 10 जूून व बीए की 11 जून से संभावित है। अब सिर्फ इस परीक्षा कार्यक्रम को विधिवत घोषित करना शेष रह गया है। बीए-बीएससी के कई छात्रों के नामांकन नहीं हो पाए थे। इस कारण 200 रुपये लेट फीस के साथ नामांकन कराने के लिए लिंक खोली गई। इसके बाद छात्रों ने नामांकन कराए। छात्र अब गुरुवार तक परीक्षा फार्म भर सकते हैं।

स्नातक प्रथम वर्ष की परीक्षा नई शिक्षा नीति के तहत कराई जा रही है। नई पद्धति से परीक्षा होने की वजह से स्कीम तैयार नहीं थी। इस परीक्षा की स्कीम तैयार होने के बाद प्रश्न पत्र तैयार कराए गए। नई शिक्षा नीति के तहत परीक्षा कराने में जीवाजी विश्वविद्यालय सबसे आगे रहा है। बीकाम प्रथम व बीएससी होम साइंस की परीक्षा 27 मई से शुरू हो रही है। इस परीक्षा में करीब 10 हजार विद्यार्थी बैठेंगे। बीएससी व बीए में सर्वाधिक विद्यार्थी हैं, जिसके चलते बीएससी की परीक्षा 10 जून से शुरू हो रही हैं। बीए की परीक्षा 11 जून से शुरू होगी। सुबह 8 बजे से 11 बजे की पाली में परीक्षा आयोजित की जाएगी। इसके अलावा विवि ने स्नातक प्रथम वर्ष परीक्षा में प्राइवेट छात्र के रूप में शामिल होने वाले छात्रों के लिए 142 (63 सरकारी, 79 गैर सरकारी) कालेजों को फार्म भराने की अनुमति दी है।

परीक्षा भवन में 51 कालेजों के छात्र परीक्षा देंगेः विश्वविद्यालय ने शहर के प्राइवेट कालेजों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के परीक्षा सेंटर घोषित कर दिए हैं। शहर के 51 प्राइवेट कालेजों के विद्यार्थी परीक्षा भवन में परीक्षा देंगे। साथ ही एमएलबी, साइंस, एसएलपी, केआरजी, जेसी मिल्स, वीआरजी, महाराजा मानसिंह, झलकारी बाई, शासकीय कालेज मोहना और वृंदा सहाय कालेज को भी परीक्षा सेंटर बनाया गया है।

वर्जन-

बीएससी व बीए प्रथम वर्ष का परीक्षा कार्यक्रम तय कर लिया है। औपचारिक घोषणा शेष रह गई है। बीएससी प्रथम वर्ष की परीक्षा 10 व बीए की 11 जून से संभावित है।

डा. अनिल शर्मा, परीक्षा नियंत्रक जेयू

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close