Gwalior JU News: ग्वालियर.(नईदुनिया प्रतिनिधि)। छात्रों को बेहतर भविष्य देने का दावा करने वाला जीवाजी विश्वविद्यालय अब परिसर को मैरिज गार्डन बनाने पर तुला है । आए दिन किसी न किसी की शादी यहां होती है । लेकिन गुरुवार की रात में हुए आयोजन ने विवि की प्रतिष्ठा को तार-तार कर दिया । स्वामी विवेकानंद के नाम पर बने इस उद्यान में स्वामी जी की मूर्ति भी लगी है। वहीं शादी समारोह के दौरान उसी मूर्ति के नीचे बैठकर खुलेआम शराब के जाम छलकाए जा गए। दूसरे दिन उद्यान में चारो ओर कचरे के साथ-साथ शराब की खाली बोतलें पड़ी हुई मिलीं । परिसर में आने वाले छात्रों की नजर जब इस नजारे पर पड़ी तो विवि की प्रतिष्ठा को लेकर उनके मन में भी एक प्रश्नचिन्ह लग गया । गौरतलब है कि यह विवेकानंद उद्यान जेयू के मुख्य प्रवेश द्वार पर ही बना हुआ है , और विवि के कुलपति प्रो.अविनाश तिवारी भी रोजाना इसी प्रवेश द्वार से परिसर मे आते हैं। फिर भी इन समस्याओं पर उनकी नजर नहीं पड़ना बड़ी चिंता का विषय है। इस मामले में कार्यपरिषद सदस्य डा. विवेक भदौरिया ने नाराजगी जताते हुए जांच की मांग की और छात्र नेताओं ने भी जेयू प्रशासन पर सीधा निशाना साधा । वहीं जब जेयू के कुलपति प्रो. अविनाश तिवारी और कुलसचिव डा. आरके बघेल से बात करने का प्रयास किया खबर लिखने के समय तक उन्होंने फोन ही नहीं उठाया ।

कई दिनों तक पडा रहता है कचरा -

विवि दावा करता है कि जेयू परिसर एक स्वच्छ परिसर है, लेकिन यहां हो रहे शादी समारोह के दौरान पर्याप्त रूप से प्रतिबंधित सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग किया जाता है । वहीं समारोह संपन्न होने के बाद कचरा उसी उद्यान में कई दिनों तक फैला रहता है । विवेकानंद उद्यान को साफ होने में कम से कम दो से तीन दिन लग जाते हैं ।

चिंता का विषय है -

विवि परिसर इस प्रकार की गतिविधि का होना जेयू की गरिमा को ठेस पंहुचाता है । इस प्रकार की लापरवाही किसी भी स्थिति में बर्दाश्त नहीं की जाएगी । इस पूरे मामले पर निष्पक्ष जांच की मांग करेंगे ।

- डा. विवेक सिंह भदौरिया , कार्यपरिषद सदस्य, जेयू

विद्यार्थियों की मानसिकता प्रभावित होती है-

परिसर में इस तरह के आयोजन की कोई निगरानी नहीं होती है तभी यहां शराब पी रहे हैं लोग । जब संभाल नहीं सकते हैं तो जेयू प्रशासन को कार्यक्रम करवाना बंद कर देना चाहिए । यह सब विद्यार्थियों की मानसिकता पर भी प्रभाव ड़ालता है ।

- कृष्णा बघेल,ग्वालियर नगर महामंत्री, एबीवीपी

कुलपति जवाब दें -

जब घर में कुछ भी होता है तो परिवार के मुखिया की जवाबदारी होती है । विवि परिवार के मुखिया कुलपति हैं, अब परिसर में शराब की बोतलें खुलेंगी और जाम झलकेंगे तो कुलपति को जवाब देना होगा । कब तक इस तरह परिसर का माहौल खराब होता रहेगा और कुलपति मूक दर्शक बने रहेंगे ।

- अंकित शिवहरे, जिला उपाध्यक्ष, एनएसयूआइ

एबीवीपी करेगी जांच की मांग

शिक्षा के मंदिर में इस प्रकार का नशीली वस्तु का पाए जाना बेहद चिंताजनक है। कुलपति को इन विषय को गंभीरता से लेते हुए जिम्मेदारों पर कार्रवाई करना चाहिए । एबीवीपी इस मामले में जांच की मांग करती है ।

-हिमांशु श्रोती,प्रांत सहमंत्री, एबीवीपी

Posted By: anil tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close