- दिसंबर में अब आंध्रा में चलाएंगे लठ

Gwalior lathes won two dozen gold: ग्वालियर (खेल प्रतिनिधि)। प्रथम मप्र राज्यस्तरीय पारंपरिक लाठी खेल प्रतियोगिता में प्रशिक्षक मनोज दुबे के नेतृत्व में ग्वालियर के खिलाड़ियों ने दो दर्जन से अधिक स्वर्ण जीतकर शहर का नाम रोशन किया।

पारंपरिक लाठी खेल संघ ग्वालियर के अध्यक्ष नितेंद्र चांदिल ने बताया कि यह प्रतियोगिता मध्यप्रदेश पारंपरिक लाठी खेल संघ के बैनर तले 23-24 अक्टूबर को उज्जैन में संपन्न हुई। जिसमें मेजबान उज्जैन सहित ग्वालियर, गुना, शिवपुरी, मुरैना, भिंड, शिवपुरी, दतिया, अशोकनगर, जबलपुर, भोपाल, इंदौर जिलों से करीब 250 खिलाड़ियों ने लाठी चलाईं। इस दौरान ग्वालियर के 35 खिलाड़ियों सहित प्रदेश के 80 खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय स्पर्धा के लिए स्थान सुनिश्चित किया। अब ये खिलाड़ी 17-18 दिसंबर को आंध्रप्रदेश के कुरनूल में एक लाठी, दो लाठी, पटा बाजी और लाठी युद्ध में अपनी-अपनी प्रतिभा का प्रदशर्न करेंगे। संघ द्वारा रेफ्रिजरेशन प्रशिक्षक का सेमिनार भी आयोजित किया गया, जिसमें ग्वालियर के राष्ट्रीय रेफरी करण माजी, आकाश शेखर ने सेमिनार में सहयोग किया। सेमिनार में ग्वालियर के ही हरिओम शर्मा, राहुल शर्मा, नितिन चंदेल, अनुराधा दुबे सफलता पूर्वक भाग लेकर स्टेट रेफरी की परीक्षा पास की। ग्वालियर के खिलाड़ियों की सफलता पर संघ के उपाध्यक्ष भीष्म शर्मा, सचिव राहुल दुबे, सहसचिव करण मांझी ने खुशी जाहिर की है।

इन्होंने जीते पदक स्‍वर्ण

महिमा, गौरी मांझी, सिमरन झा, अनुराधा दुबे, विकास मांझी, खुशबू खान, खुशी खान, राधिका मांझी, भूमिका कौर, मुस्कान मांझी, दीक्षा मांझी, कपिल हरसन, चित्रांश श्रीवास, हार्दिक दीक्षित, शिवेंद्र प्रताप, सार्थक गुर्जर, अमन शर्मा, हितेश सिंह, प्रफुल गुर्जर, अनुराग शर्मा, नितिन मांझी, समद अली, देवव्रत राजपूत, आर्यन श्रीवास, आदित्य दुबे। रजत : प्रिंस मांझी, शेरा अली। ब्रांज : हिमांशी मांझी, सूरज|

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local