ग्वालियर। लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षण संस्थान (एलएनआईपीई) की महिला कर्मचारी ने संस्थान के कुलपति डॉ. दिलीप कुमार डुरेहा पर शारीरिक शोषण करने के इरादे से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। केंद्रीय खेल राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार किरण रिजिजू को मेल पर भेजी शिकायत में महिला कर्मचारी का कहना है कि कुलपति के इशारे पर योग विभाग प्रमुख व सहायक आचार्या भी उनको प्रताड़ित करते हैं। जबकि कुलपति ने महिला कर्मचारी के आरोपों को निराधार बताया है।

महिला कर्मचारी ने केंद्रीय खेल राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार को 14 अक्टूबर भेजी शिकायत में आरोप लगाया कि कुलपति द्वारा मेरा मानसिक व भावनात्मक उत्पीड़न किया जा रहा है। मेरी व्यक्तिगत फाइल और शिक्षण प्रोफाइल को बिगाड़ा जा रहा है, क्योंकि कुलपति डराकर मेरा शारीरिक शोषण करना चाहते हैं। महिला का आरोप है कि मुझे प्रताड़ित करने में संस्थान के योग विभाग प्रमुख और सहायक आचार्या भी सम्मलित हैं, जो कुलपति के कहने पर मेरे ऊपर दबाव बनाने के लिए अधिकारिक कागजात के साथ छेड़छाड़ और झूठे दस्तावेज तैयार करती हैं। कुलपति इससे पहले अपने पद का दुरुपयोग इसी संदर्भ में करते आए हैं। इसके साक्ष्य मांगे जाने पर दे सकती हूं।

कक्ष में मोबाइल नहीं ले जाने देते

महिला कर्मी ने अपनी शिकायत में बताया कि कुलपति अपने कक्ष में महिला कर्मचारी को देर शाम ही बुलाते हैं और वहां लगे सीसीटीवी कैमरे बंद कर गुप्त कैमरे का उपयोग करते हैं। कक्ष में मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं है। इस तरह की मीटिंग को अनुचित बताने व न जाने पर व्यक्तिगत प्रोफाइल बिगाड़ने की धमकी देते हैं।

मेरी जान को खतरा है

महिला कर्मचारी ने मेल में बताया है कि वह शादीशुदा है। परिवार दिल्ली में रहता है। यहां एलएनआईपीई कैंपस में रहती हूं, जिससे मेरी जान को खतरा बढ़ गया है। मैं असुरक्षित महसूस करती हूं।

आरोप निराधार है

मेरे ऊपर लगे आरोप गलत और निराधार हैं। मैं उस महिला को ठीक से जानता तक नहीं हूं। मेरे चैंबर में अकेली महिला को प्रवेश नहीं दिया जाता है, इसके मैंने सख्त निर्देश दे रखे हैं। अगर कोई जरूरी काम है तो वह अपने पुरुष सहयोगी के साथ या मेरे स्टाफ के सामने बात करने आ सकती है। वैसे, महिला का डिपार्टमेंटल झगड़ा चल रहा है, जिसकी जांच भी चल रही है।

-प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा कुलपति, एलएनआईपीई

Posted By: Saurabh Mishra