Gwalior Municipal Corporation News: दीपक सविता, ग्वालियर नईदुनिया। इन दिनाें हर घर में दीपावली की तैयारियां चल रही हैं, इसके चलते घराें से निकलने वाले कचरे की मात्रा बढ़ गई है। वर्तमान में प्रतिदिन 700 टन कचरा शहर से निकल रहा है। जबकि दीपावली के पर्व से पहले यह मात्रा प्रतिदिन 350 टन तक रहती थी। निगम ने अपने पूरे संसाधन एवं ताकत झाेंक दी है, लेकिन सफाई व्यवस्था में सुधार नहीं हाे पा रहा है। लोगों के घरों से निकल रहे कचरे को गली मोहल्लों, कालोनियों में कचरे के ढेर लगे हुए हैं। जबकि नगर निगम की गाडियां लगातार कचरे को फैंकने के लिए लैंडफिल साइड के चक्कर काट रही हैं, लेकिन इसके बाद भी शहर में गदंगी दिख रही है। अब नगर निगम ने सफाई कर्मचारियाें का रविवार का अवकाश रद्द कर दिया है।

दीपावली के पर्व पर लोगों के घरों से 99 प्रतिशत सूखा कचरा निकल रहा है। इनमें पालीथिन, कांच, गत्ता, आदि निकल रहा है। यह कचरा हल्का है, लेकिन जगह अधिक घेर रहा है। इसके साथ ही लोगाें के घरों में चल रहे रिनोवेशन के कारण बिल्डिंग मटेरियल भी बड़ी तादात में निकल रहा है। इसलिए निगम द्वारा 350 से अधिक वाहन लगाए जाने के बाद भी शहर की सफाई व्यवस्था नहीं सुधर पा रही हैं। शहरवासियों को दीपावली के पर्व पर फीलगुड नहीं हो पा रहा है। इसके चलते अब निगम ने रात में भी सफाई व्यवस्था प्रारंभ की है, लेकिन यह भी बहुत अधिक कारगर साबित नहीं हाे पा रही है। रात के समय निकल रहे कचरे को फैंकने के लिए कर्मचारियों को दो शिफ्टों में लगातार काम करना पड़ रहा है।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local