Gwalior Municipal Corporation News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। खुले चेंबर काे लेकर नगर निगम के अपर आयुक्त एवं उपयंत्री के बीच आफिशियल वाट्सएप ग्रुप पर तीखी बहस हाे गई। दरअसल अपर आयुक्त ने जब ग्रुप पर मैसेज पाेस्ट किया कि घर के पास ही चेंबर खुला है, इसे ठीक कराएं, इस पर उपयंत्री ने इंकार कर दिया। साथ ही शहर की बदहाल सफाई व्यवस्था काे लेकर कमेंट करना शुरू कर दिया। इसी बात काे लेकर दाेनाें पक्षाें में जमकर बहस शुरू हाे गई। हालांकि जब बिगड़ते दिखाई दिए ताे नगर निगम कमिश्नर के निज सचिव काे हस्तक्षेप करके दाेनाें काे राेकना पड़ा। इसके बाद मामला शांत हुआ।

नगर निगम में अपर आयुक्त संजय मेहता एवं सीवर संधारण एवं सफाई के नोडल अधिकारी व उपयंत्री राजेंद्र भदौरिया में नगर निगम के आफिशियल वाटसएप ग्रुप पर जमकर बहस हाे गई। दरअसल नगर निगम अपर आयुक्त संजय मेहता अपनी कार से कहीं जा रहे थे, तभी उनकी नजर सामने खुले हुए चेंबर पर पड़ी। चेंबर काे बचाने के चक्कर में उन्होंने एकदम से कार काे एक तरफ मोड दिया, जिससे वह सामने से आ रहे व्यक्ति से टकराते हुए बचे। इसके बाद उन्होंने इस हादसे को ग्रुप पर डाला कि उनके घर के पास ही चेंबर खुला हुआ है, इसे ठीक कराया जाए। इसके बाद राजेंद्र भदौरिया ने इसे ठीक कराने से मना करते हुए कहा कि यह नाले का चेंबर है, वह इसे ठीक नहीं कराएंगे। इसके साथ ही उन्होंने पाेस्ट किया कि शहर में हर तरफ कचरा ही कचरा है, सफाई व्यवस्था खराब पड़ी हुई है। इसके बाद दोनों ओर से एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाए गए। अंत में निज सचिव अंकुर गुप्ता के द्वारा मैसेज डाले जाने के बाद यह मामला शांत हुआ।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local