निगम के कचरा संग्रहण वाहनों ने तीन विधानसभाओं से उठाया 16 टन गोबर

Gwalior Municipal Corporation News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर में पशु डेयरी संचालित करने वाले डेयरी संचालकों द्वारा उनके यहां से निकलने वाले गोबर को या तो सड़क किनारे फेंक दिया जाता है या फिर वे गोबर को नालियों में बहा रहे हैं। जिसके चलते शहर में नालियां चोक होने की समस्या बनी रहती है।

इस समस्या के स्थाई निराकरण के लिए नगर निगम ग्वालियर द्वारा शहर में चार ग्वाला नगर बनाए जा रहे हैं। जहां पशु डेयरी वालों को स्थानांतरित किया जाएगा, लेकिन अभी इस प्रक्रिया में समय लग रहा है। इसे देखते हुए निगम द्वारा पशु डेयरी संचालकों के यहां से ही गोबर संग्रहण कराने का कार्य शुरू किया गया है। निगम के अमले द्वारा मंगलवार को तीनों विधानसभा क्षेत्रों से लगभग 16 टन गोबर उठाया गया। इस दौरान निगम अमले ने पशु डेयरी संचालकों से बात कर उन्हें समझाइश दी कि वह अपनी डेयरी से निकलने वाले गोबर को सड़क व नाली में न बहाएं। वे उसे निगम के गोबर संग्रहण वाहन में ही डालें। निगम द्वारा किए जा रहे गोबर संग्रहण अभियान की मॉनीटरिंग सभी क्षेत्रों के सहायक स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा की जा रही है।

दिल्ली से आए दल ने किया निरीक्षण

सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज के अंतर्गत मंगलवार को ग्वालियर का निरीक्षण करने क्यूसीआइ का दल दिल्ली से आया। दल ने सुबह सात बजे से मैदानी निरीक्षण किया गया। सबसे पहले वह सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट लाल टिपारा पहुंचा, यहां सीवर की इनलेट और आउट लेट (आना और जाना) की स्थिति चेक की गई व तस्वीरें खींची गई। इसके बाद एफएसटीपी बैजाताल पहुंचा। यहां प्लांट का संचालन देखकर इनलेट और आउटलेट की तस्वीरें खींची। फिर झुग्गी बस्तियों का निरीक्षण किया गया।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local