Gwalior Municipal Corporation News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ग्वालियर में बारिश शुरू हो चुकी है। सोमवार को हुई एक घंटे की बारिश ने नगर निगम की पोल खोलकर रख दी थी। शहर में जलभराव हुआ था, लोगों के घरों में पानी भरा था और तो और निगम मुख्यालय के सामने बना सीवर भी उफनने लगा था। लाेगों के घरों में पानी भरने एवं जलभराव का कारण था नालों की सफाई नहीं होना, जबकि निगमायुक्त शिवम वर्मा ने एक माह पहले ही निर्देश दिए थे। लेकिन निगम के अधिकारियों ने इस आदेश को नजरअंदाज कर दिया। अधिकारियों ने निगमायुक्त के आदेश की अवेहलना करते हुए काम नहीं किया। नईदुनिया की टीम दर्पण कालोनी और सिटी सेंटर पहुंची वहां पर टीम को दोनों नाले पूरी तरह भरे हुए मिले।

हर साल होता है घोटालाः नगर निगम बारिश के मौसम से पहले हर साल नालों की सफाई का टेंडर जारी करता था। इस दौरान ठेकेदार काम काफी कम करता था, लेकिन जैसे ही बारिश आती है नालों की स्थिति बिगड़ने लगती है। वे उफान पर आ जाते हैं। इस काम का ठेकेदार को तो करोड़ों रुपये भुगतान किया जाता है, मगर जनता की परेशानी जस की तस बनी रहती है। इस साल निगमायुक्त ने निगम के अधिकारियों से संसाधनों के साथ नालों की सफाई की जिम्मेदारी दी। इससे निगम को आर्थिक लाभ हुआ, लेकिन अधिकारियों ने काम नहीं किया।

कहां क्या स्थितिः

सिटी सेंटर : सिटी सेंटर पर आरोग्यधाम अस्पताल के पास से बहने वाला करीब 8 फीट चौड़ा नाला पूरी तरह से कचरे एवं कीचड़ से भरा हुआ है। यह नाला पीछे महलगांव से बहकर आता है। इस नाले की आज तक सफाई नहीं की गई। इसके कारण महलगांव में पानी भरता है, साथ ही महलगांव के अन्य छोटे बड़े नालों की भी यहीं हालत है। महलगांव में कई लोग घरों में मवेशी पालते हैं। इसमें ही मवेशियों का वे गोबर बहाते हैं।

दर्पण कालोनी : विश्वविद्यालय के पीछे से बहकर आने वाला नाला आगे जाकर दर्पण कालोनी में मिल जाता है। इस नाले की हालत बहुत ही खराब है। यहां भी लोगों ने अपने घरों के मवेशियों का गोबर नाले में डाल दिया है। इसके साथ ही यहां पर सफाई भी नहीं की गई । इसके चलते बारिश के मौसम में यहां पर पानी का भराव होगा। साथ ही गंदगी लोगों के घरों में भरेगी।

वर्जन-

नालों की सफाई का निर्देश दिया गया था, साथ ही सफाई भी हुई है। मैं स्वयं निरीक्षण के लिए जाता हूं। जिन नालों के बारे में आप बता रहे हैं मैं उन्हें दिखवा लेता हूं। अगर वे भरे मिले तो उनकी सफाई करा दी जाएगी।

शिवम वर्मा, निगमायुक्त

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags