- आडियो वायरल, नोडल अधिकारी ने इंचार्ज को सस्पेंड करने लिखा पत्र

Gwalior Municipal Diesel Stolen News: ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। केदारपुर स्थित लैण्डफिल साइड पर इंसीनेटर से कोरोना के उपचार के दौरान निकले वेस्ट को नष्ट करने के लिए प्रतिदिन 80 लीटर डीजल दिया जाता है। लेकिन यह इंसीनेटर एक माह से बंद पड़ा हुआ है। वहीं इस इंसीनेटर को चालू दिखाकर प्रतिदिन 80 लीटर डीजल चोरी छुपे केदारपुर प्लांट से निकालकर एजी आफिस स्थित पैचवर्क कार्यालय से बेच दिया जाता था। जबकि पैचवर्क के लिए भी कर्मचारियों को अलग डीजल मिलता है। इस मामले का खुलासा पैचवर्क प्रभारी और इंसीनेटर के प्रभारी अभिषेक के साथ ही कर्मचारियों की बातचीत में सामने आया है। इसमें कर्मचारियों ने डंपर में दो कैन डीजल भरकर चोरी छुपे ले जा रहे चालक को पकड़ा। इसकी जानकारी प्रभारी को दी गई। प्रभारी ने फोन पर कहाकि इसकी भनक नोडल अधिकारी अतिबल सिंह यादव को नहीं लगनी चाहिए और डीजल एजी आफिस स्थित पैचवर्क कार्यालय पर ले आओ। मामला सामने आने पर नोडल अधिकारी डीजल अतिबल सिंह यादव ने प्रभारी अभिषेक को निलंबित करने के लिए नगर निगम आयुक्त को पत्र लिखा है।

नोडल अधिकारी डीजल अतिबल सिंह यादव ने बताया कि एक माह से इंसीनेटर बंद पड़ा हुआ है। लेकिन इसके बाद भी यहां पर 80 लीटर प्रतिदिन की खपत बताई जा रही है। इसके साथ ही पैचवर्क भी अभी गढड़ों के समय प्रारंभ हुआ है लेकिन इसके पहले यह भी बंद था लेकिन इसके बाद भी लगातार भारी मात्रा में डीजल की खपत बताई जा रही थी। आडियो वायरल होने के बद इस मामले का खुलासा हुआ है। इसके साथ ही लोहे एवं अन्य मटेरियल को चोरी छुपे बेचने के मामले में भी 21000 रुपये के लेनदेन का एक और आडियों वायरल हुआ है। इन दोनों आडियों को सुनने के बाद प्रभारी अभिषेक को निलंबित करने के लिए निगमायुक्त किशोर कान्याल को पत्र लिखा है।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local