ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

उपचुनाव की तैयारियों के शोर में कोरोना वायरस से निपटने के दावे ढ़ेर हो चुके हैं। एक-एक संक्रमित पर भागदौड़ मचाने वाली सरकारी मशीनरी ने अब लापरवाही की हदें पार कर दी हैं। रविवार को कोरोना के बुलेटिन में 24 संक्रमितों का आंकड़ां अंको बतौर राहत दे रहा हो लेकिन इसके पीछे सुस्ती की बड़ी कहानी है। शनिवार को 740 सैंपल लेने वाले जिम्मेदारों ने रविवार को 312 ही सैंपल लिए। उधर शनिवार को आई 987 की जांच रिपोर्ट में 110 सैंपल उजागर ही नहीं किए गए। शनिवार को भेजे गए 740 सैंपल में से रविवार को 423 ही सैंपलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। वायरस के हड़कंप मचाने के बाद भी आमजन की जान के साथ खिलवाड़ करने वाले जिम्मेदार अब कोरोना के बुलेटिन में फीलगुड कराने का खेल खेल रहे हैं। आंकड़े कम करने के लिए यह कारगुजारी ग्वालियर शहर की जनता पर भारी पड़ सकती है।

भेजे गए सैंपल और आने वालीं जांचों का एडजस्टमेंट इस तरह से हो रहा-

दिन सैंपल जांच पॉजिटिव

11अक्टूबर 585 891 54

12अक्टूबर 1401 875 50

13अक्टूबर 1231 1591 52

14अक्टूबर 1033 1083 45

15अक्टूबर 1335 1197 45

16अक्टूबर 1097 1183 49

17अक्टूबर 740 987 46

18अक्टूबर 312 423 24

नोटः 11अक्टूबर को 585 सैंपल भेजे जांच रिपोर्ट 891 की । 12 अक्टूबर को 1401 सैंपल भेजे गए पर जांच रिपोर्ट आई 875 की। इसी तरह 13 अक्टूबर को भेजे गए सैंपल 1231 पर जांच रिपोर्ट आई 1591 की । 14 अक्टूबर को 1033 सैंपल भेजे पर जांच आई 1083 की ।15 अक्टूबर को 1335 को सैंपल भेजे 1335 पर जांच आई 1197 की। 16 को भेजे गए सैंपल 1097, जांच रिपोर्ट आई 1183 की। 17 को भेजे गए सैंपल 740,जांच आई 987 की । 18 अक्टूबर को भेजे गए सैंपल 312 , जांच रिपोर्ट आई 423 की। इस तरह से सैंपल और जांच रिपोर्ट का एडजस्टमेंट किया जा रहा है।

740 में से जांच रिपोर्ट आई 423 की जिम्मेदारों को नहीं पता बाकी सैंपल कहां-

सरकारी बुलेटिन के अनुसार शनिवार को 740 सैंपल जांच के लिए जीआरएमसी की बायोकैमिस्ट्री लैब में जांच के लिए पहुंचाए गए। लेकिन रविवार को जांच रिपोर्ट आई 423 सैंपल की बाकी के 312 सैंपल की रिपोर्ट रोक दी गई। जब इस विषय में सीएमएचओ से लेकर संभागायुक्त से बात की गई तो वह इसका संतुष्टीपूर्ण जबाव नहीं दे सके। संभागायुक्त का कहना था कि वह भोपाल रिपोर्ट भेजते हैं जिसमें कोई पेंडेंसी नहीं है।

यह निकले संक्रमित-

रविवार को 24 कोरोना संक्रमित पाए गए। जिसमें 13 बटालियन का 46 वर्षीय निरीक्षक, आर्मी कैंट मुरार का जवान, जयारोग्य अस्पताल की 35 वर्षीय जूनियर डॉक्टर, त्रिप्तीनगर का 29 वर्षीय युवक, पिंटो पार्क की 26 वर्षीय महिला, नया बाजार का 62 वर्षीय वृद्घ, और रानी महल से 64 वर्षीय वृद्घ कोरोना संक्रमित पाया गया।

वर्जन-

हर दिन भोपाल कोरोना की रिपोर्ट भेजी जाती है। जिसमें सैंपल की जानकारी भी होती है। लेकिन उसमें अभी तक कोई पैंडेंसी नहीं आई। यदि कोई पैंडेंसी है तो मैं दिखवाता हूं आखिर इतनी कम सैंपलिंग क्यों हुई और सैंपल रिपोर्ट कम की क्यों आई।

आशीष सक्सेना, संभागायुक्त

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020