Gwalior News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बीते एक साल में विभिन्न डाग स्टेशन से दो लाख राइड हुई हैं। इन दो लाख राइड में 86 फीसद पुरुष व 14 फीसद महिलाएं शामिल हैं, जिससे उन्हें स्वास्थ्य के साथ आर्थिक लाभ भी हुआ है। हाल ही में आइटीएम यूनिवर्सिटी द्वारा कराए गए अध्ययन में सामने आया है कि पब्लिक बाइक शेयरिंग में 86 फीसद पुरुष व 14 फीसद महिलाएं शामिल रहीं। जिसमें 15 से 25 आयु वर्ग के 57 फीसद, 26 से 40 आयु के 34 फीसद ने साइकिलिंग का उपयोग किया। राइडिंग में 15 से 40 वर्ष के बीच के लोगों की 91 फीसद भागीदारी रही है। स्मार्ट सिटी सीइओ जयति सिंह ने बताया कि इसके अध्ययन में आइटीएम यूनिवर्सिटी की पूरी टीम लगी थी। अध्ययन के माध्यम से जो जानकारी प्राप्त हुई, अब उस आधार पर स्मार्ट सिटी टॉप 95 राइडर्स को ग्रीन चैम्पियन के सम्मान से सम्मानित करेगी। इससे महिलाओं को भी बढ़ावा मिलेगा।

इन क्षेत्रों में अधिक हुई साइकिलिंग: स्मार्ट सिटी के अनुसार दो लाख राइड थाटीपुर, केआरजी कॉलेज, साइंस कॉलेज, गोविंद पुरी, हास्पिटल रोड, स्टेशन ,तानसेन नगर, बीएसएनएल सिटी सेंटर, बारादरी चौक, इंदरगंज चौक, जीवाजी विश्वविद्यालय, न्यू हाईकोर्ट, राजमाता सर्कल, एसबीआइ, महाराज बाड़ा व एमआइटीएस डाक स्टेशन शामिल रहे।

प्रदूषण से मिली राहतः दाे लाख राइड में करीब एक लाख घंटे साइकिलिंग हुई, जिससे पर्यावरण को भी लाभ हुआ। साइकिलिंग से शहर में प्रदूषण भी नहीं फैला। शहर के 50 डाग स्टेशन पर 500 आधुनिक साइकिल रखी गई थीं। जिसमें 130 दो पहिया वाहन से ही बीस माह में काफी प्रदूषण घटा है।

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags