Gwalior News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। किस प्रकार हम प्राणायाम और ध्यान के माध्यम से मन एवं शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं, इस उद्देश्य के साथ दस दिवसीय आनलाइन आरोग्य ध्यान यात्रा की जा रही है। श्री श्री रविशंकर जी स्वयं इस दस दिवसीय शिविर को आनलाइन ले रहे हैं। शाम 7 से 7:30 बजे इंटरनेट मीडिया पर इस श्रृंखला का प्रसारण लाइव किया जा रहा है। मंगलवार को पांचवे दिन रविशंकर महाराज ने बताया किस प्रकार हमारी भावना मन पर असर करती है। जब हम सकारात्मक सोचते हैं और प्रसन्नचित रहते हैं तो हमारे अंदर ऊर्जा का संचार होता है। जब ऊर्जा में वृद्धि होती है, शरीर स्वस्थ रहता है तो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। हमारे नकारात्मक सोचने पर ऊर्जा का नाश होता है और मन दुखी रहता है। इसके अलावा हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी घटती है।

फिट रहने मौका मिलने पर करें कसरतः वर्तमान समय में हम जिन परिस्थितियों से गुजर रहे हैं, उनमें हमें अपने स्वास्थ्य का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए। चूंकि कोरोना के कारण जिम बंद हैं, इससे फिटनेस के दीवाने वर्कआउट नहीं कर पा रहे हैं। इस समस्या का समाधान उनके पास ही है, वे जहां भी मौका मिले, वहां कसरत करें। इससे उनका स्वास्थ्य बेहतर रहेगा। यह कहना था डा. केशव सिंह गुर्जर का। वे बुधवार को उड़ान शुरुआत हौसले के आनलाइन समर कैंप के बौद्धिक सत्र को मुख्य वक्ता के रूप में संबोधित कर रहे थ। इसमें 100 से अधिक 9वीं से 12वीं के विद्यार्थी भी प्रशिक्षण ले रहे हैं। शिविर के दौरान स्पर्धाएं भी होंगी, जो बेहतर प्रदर्शन करेंगे उन्हें प्रमाणपत्र भी वितरित भी किए जाएंगे। इस मौके पर तेजेंद्र गुर्जर, पूजा गुर्जर, अनुपम तिवारी, स्मृति शर्मा एवं प्रतिमा सहगल आदि की भी मौजूदगी रही है।

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags