ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर के हृदयस्थल महाराज बाड़ा समेत पूरी दक्षिण विधानसभा की निगरानी सीसीटीवी कैमरे से कराने की तैयारी है। हर गली-मोहल्ले में नाइट विजन कैमरे लगाए जाएंगे। पूरे क्षेत्र को सीसीटीवी की नजर में लाने के लिए 15 करोड़ रुपए खर्च होगा। यह पूरी कवायद इस व्यापारी क्षेत्र को अपराधों से मुक्त करने के लिए की जा रही है। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने एसडीएम (मुरार) जयति सिंह को डीपीआर तैयार कराने का कार्य सौंपा है।

इस कार्य के लिए दुबई के कंसलटेंट की मदद ली जा रही है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में डॉक्टरेट कर रहे संजय श्रीवास्तव के माध्यम से सर्वे कराया गया है। क्षेत्र के विधायक प्रवीण पाठक के मुताबिक गेल इंडिया व पावर ग्रिड के सीएसआर फंड से आर्थिक मदद मांगने के साथ राज्य सरकार से भी आर्थिक सहयोग लेने का प्रयास किया जाएगा। सीसीटीवी कैमरे से कवर होने वाली प्रदेश की नहीं देश की पहली दक्षिण विधानसभा होगी।

गली- मोहल्ले तक सीसीटीवी कैमरे से कवर रहेंगे

विधायक ने बताया कि वह कुछ दिन पहले विदेश घूमने के लिए गए थे। उन्होंने वहां पता किया कि यहां क्राइम कंट्रोल कैसे हैं? लोगों से चर्चा करने पर पता चला अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की अहम भूमिका है। पूरा क्षेत्र सीसीटीवी कैमरों से कवर होने के कारण व्यक्ति अपराध करने से कई बार सोचता है।

दक्षिण विधानसभा को अपराध मुक्त बनाने के लिए सीसीटीवी कैमरों से कवर किए जाने का प्लान तैयार किया जा रहा है। भोपाल को अतिक्रमण मुक्त बनाने में अहम भूमिका बनाने वाले संजय श्रीवास्तव की मदद इस योजना को अमली जामा पहनाने के लिए मदद ली जा रही है।

उनकी निगरानी में विधानसभा क्षेत्र के गली-मोहल्लों तक सर्वे कराया जा रहा है। यह कैमरे उच्च गुणवत्ता के होंगे। इनमें नाइट विजन भी होगा, जिससे रात के अंधेरे में इनके फुटेज क्लियर होंगे। पूरी विधानसभा सीसीटीवी कैमरों से कवर होने से लोगों का आत्मविश्वास बढ़ेगा। अपराध मुक्त होने से कारोबार बढ़ेगा।

ट्रैफिक व्यवस्था में सुधारने में मदद मिलेगी

पूरा क्षेत्र सीसीटीवी कैमरों से कवर होने के बाद ट्रैफिक व्यवस्था में सुधारने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से मिले इनपुट से मदद मिलेगी।

3 माह में सीसीटीवी कैमरों से कवर हो जाएगी पूरी विधानसभा-

पूरी विधानसभा को सीसीटीवी कैमरों से कवर करने के लिए गेल इंडिया व पावर ग्रिड जैसी कंपनियों से सीआरएस फंड से आर्थिक मदद के लिए चर्चा हुई है। इसके अलावा राज्य सरकार से भी आर्थिक मदद मांगी जाएगी। सर्वे का काम शुरू हो गया है। 3 महीने में पूरी विधानसभा सीसीटीवी कैमरे से लैस हो जाएगी। - प्रवीण पाठक, विधायक दक्षिण विधानसभा

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस