ग्वालियर। निगमायुक्त संदीप माकिन ने स्वच्छता अभियान से जुड़े अन्य अधिकारियों के साथ बुधवार की शाम केदारपुर स्थित कचरे से खाद बनाने के प्लांट का औचक निरीक्षण किया। वहां प्लांट चालू मिला। निगमायुक्त ने अपर आयुक्त नरोत्तम भार्गव, नोडल अधिकारी पवन सिंघल व श्रीकांत कांटे से कहा कि वे नियमित रूप से कार्य की मॉनीटरिंग करें। उन्होंने कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।

दोपहर में ली बैठक

निगमायुक्त श्री माकिन ने दोपहर में बाल भवन में सभी क्षेत्राधिकारियों व स्वच्छ भारत मिशन सेल के सभी अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने हर क्षेत्र की सफाई और डोर टू डोर कचरा कलेक्शन की समीक्षा की। कई क्षेत्राधिकारियों ने बताया कि समय पर कचरा कलेक्शन वाहन नहीं पहुंचते। इससे घरों का कचरा सड़क पर आ जाता है। निगमायुक्त ने कहा कि ईको ग्रीन कंपनी ने काम तेज कर दिया है। निगम के वाहन भी समय पर पहुंचें, यह सुनिश्चित करना होगा। भवन निर्माण सामग्री सड़कों पर रखने वालों पर कार्रवाई के निर्देश भी उन्होंने दिए।

बरा में अब वन विभाग ने रुकवाया काम

बहोड़ापुर से आगे बरा गांव में निगम ने पुराने डंपिंग ग्राउंड का कायाकल्प हो रहा है। वहां से कचरा पूरी तरह हटा दिया है। करीब पांच बीघा जमीन पर निगम अब सवा करोड़ से पार्क विकसित कर रहा है। पिछले दिनों वहां नरेश यादव नामक किसान अचानक प्रकट हुआ और 2 बीघा जमीन अपनी बताकर काम बंद करा दिया। निगम ने जमीन के सीमांकन के लिए जिला प्रशासन को पत्र भेजा है। निगम ने शेष जमीन पर काम शुरू किया तो वन विभाग ने रोक दिया। वन विभाग के कर्मचारी फावडा-तस्सल उठाकर ले गए।

निगमायुक्त संदीप माकिन, पवन सिंघल व श्रीकांत कांटे बुधवार को वहां पहुंचे। निगमायुक्त ने डीएफओ से चर्चा की और घटना से अवगत कराया। उल्लेखनीय है कि निगम इस जमीन पर पिछले 10 साल से कचरा डाल रहा था। उससे आसपास की वन विभाग की जमीन पर लोगों ने कब्जे कर लिए हैं। जो जमीन बची है,निगम उस पर पार्क बना रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network