ग्वालियर। मैरिज वेबसाइट पर मिले। फेसबुक पर बात कर युवती से दोस्ती की, फिर मेरठ (यूपी) निवासी एक युवक ने खुद को कुंवारा बताकर उससे शादी कर ली। शादी दोनों परिवारों की सहमति से हुई। करीब 9 महीने के वैवाहिक रिश्ते में 20 लाख रुपए का दहेज लेने, युवती का लगातार शारीरिक शोषण करने और बार-बार गर्भपात कराया गया। घटना फरवरी 2018 से नवंबर 2018 के बीच की थी।

इसी बीच युवती को पता लगा कि जिसे वह अपना पति मान रही है वह वर्ष 2015 में शादी कर चुका है। मेरठ में उसकी पत्नी और एक बेटी भी है। इसके बाद युवती ने विरोध किया तो उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया। आरोपित इसके बाद भी नहीं माना और कार की मांग की। प्रस्ताव रखा कि कार देंगे तो वह उसे पत्नी बनाकर रखेगा। कई दिनों तक बातचीत होती रही। आखिर में युवती मुरार थाना पहुंची। पुलिस ने आरोपित युवक पर दुष्कर्म व धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। आरोपित के मां-पिता को भी आरोपित बनाया गया है।

ऐसे जुड़ा रिश्ता

उपनगर मुरार के हुरावली पवनसुत कॉलोनी निवासी 26 वर्षीय युवती के परिजन उसके लिए एक अच्छा रिश्ता तलाश रहे थे। तभी जीवनसाथी डॉट कॉम पर युवती को एक परफेक्ट मैच नजर आया। वह था उत्तर प्रदेश के गांव बड़करी तहसील सरगना थाना दौराला पोस्ट सकोती मेरठ निवासी देवव्रत राठी (29) का, वहां से दोनों की पहचान हुई फिर देवव्रत से युवती की फेसबुक पर बात होने लगी। दोनों ने एक-दूसरे का नंबर लिया और मोबाइल पर बात शुरू हो गई।

युवती को युवक ने बताया कि अभी वह ग्वालियर जारगा रोड के पास रहता है, यहां उसका व्यवसाय है। इसके बाद युवती ने अपने परिजन को सारी बात बताई। युवती के परिजन देवव्रत के घर पहुंचे। वहां उसके पिता वीरसिंह राठी व मां मधुवाला राठी मिली। युवक के परिजन ने ऐसा व्यवहार किया कि युवती के परिजन को सबकुछ अच्छा लगा। उन्होंने रिश्ता पक्का कर दिया। 18 फरवरी 2018 को दोनों की शादी हुई। जिसमें 15 तौला सोना सहित करीब 20 लाख रुपए का सामान दिया गया।

9 महीने झेली प्रताड़ना, 2 बार कराया गर्भपात

शादी के कुछ दिन बाद से ही पति ने उसे परेशान करना शुरू कर दिया। बुरी तरह उसका शारीरिक शोषण करता। 9 महीने में दो बार वह गर्भवती हुई पर दोनों बार उसका गर्भपात करा दिया गया। इसके बाद 17 नवंबर 2018 को घर से निकाल दिया। निकालने का कारण कार की मांग पूरी नहीं करना था।

पहले से शादी शुदा निकला पति

काफी दिन तक दोनों परिवारों में बातचीत चलती रही। इसी दौरान पीड़िता के परिजन ने यूपी मेरठ पहुंचकर भी उनके रिश्तेदारों से बातचीत करना चाही। तब एक बढ़ा पर्दाफाश हुआ। देवव्रत राठी जिसे युवती अपना पति मान रही थी वह पहले से शादी शुदा निकला। वर्ष 2015 में सुप्रिया नामक युवती से उसने शादी की थी। उससे एक 3 साल की बेटी भी है। इसके बाद पीड़िता मुरार थाना पहंुची और शिकायत की। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

Posted By: Hemant Upadhyay