ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। हवाई यात्रा के रिस्पांस में लगातार उड़ान भर रहे ग्वालियर के लिए अब बोइंग विमान और नए शहरों के लिए फ्लाइटें कतार में हैं। ग्वालियर का एयर पैसेंजर लोड 500 का हो गया है जो अब मौजूदा एयर टर्मिनल के लिए छोटा हो गया है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को ग्वालियर एयर स्टेशन से जो प्रस्ताव भेजा गया है,उसमें रिस्पांस और संभावनाओं पर विशेष फोकस किया गया है। एएआई की प्लानिंग टीम के सर्वे के लिए आने का इंतजार है। मौजूदा स्थिति में आलू अनुसंधान केंद्र की जमीन सबसे उर्पयुक्त मानी जा रही है क्योंकि यह एयरपोर्ट के सबसे नजदीक है। वहीं विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण में नए टर्मिनल के प्रस्ताव को फिलहाल शामिल नहीं किया जा रहा है। नए टर्मिनल के लिए राज्य सरकार को प्रस्ताव जाएगा और उसके बाद आवंटन होगा।

दिल्ली और भोपाल के तकरीबन बीच में होने के कारण और बेहतर रेल कनेक्टिविटी से जुड़े होने से यहां एयर ट्रैफिक को अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। मौजूदा स्थिति में ग्वालियर से हैदराबाद,बैंगलोर,जम्मू,कोलकाता,इंदौर और दिल्ली के लिए फ्लाइटें हैं। अब पुणे सहित दूसरे शहरों को जल्द जोड़ने की तैयारी की जा रही है। ग्वालियर के कॉर्पोरेट वर्ग से लेकर मार्केट एरिया से इसको लेकर डिमांड है कि दूसरे मुख्य शहरों को भी ग्वालियर से कनेक्ट किया जाए। कम समय में दूसरे शहरों में आवागमन होने पर समय की बचत होगा और कारोबार भी बढ़ेगा।

सर्वे रिपोर्ट ओके होते ही शासन को जाएगा प्रस्ताव

नए एयर टर्मिनल के लिए एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की प्लानिंग टीम आने ही वाली है। टीम सभी बिंदुओं पर तकनीकी तौर पर सर्वे करेगी और अपनी रिपोर्ट एएआई को देगी। नए टर्मिनल के लिए केंद्रीय आलू अनुसंधान केंद्र की जमीन को चिन्हित किया गया है और यहां संभावनाएं कितनी बेहतर होंगी,यह सर्वे में सामने आएगा। सर्वे की रिपोर्ट ओके आते ही राज्य शासन को प्रस्ताव जाएगा और एएआई को जमीन का आवंटन होगा।

इसलिए नया टर्मिनल जल्द चाहिए

-मौजूदा स्थिति में ग्वालियर से रोज आने जाने वाले पैसेंजर का लोड 500 तक पहुंच गया है,अब यह 1000 और 1500 भी हो जाएगा क्योंकि बोइंग विमान और नए शहरों को जोड़ने से लोड भी बढ़ेगा।

-अभी मौजूदा एयर टर्मिनल सिविल एयरपोर्ट के मायनों में छोटा है और शहर की क्रेडिट बढ़ाने के लिए नया टर्मिनल जरूरी है।

-स्थानीय जिला प्रशासन खुद नए टर्मिनल को लेकर प्रयासरत है और पहल भी प्रशासन की ओर से इस मामले में की गई है।

प्लानिंग टीम आएगी

नए एयर टर्मिनल को लेकर एएआई को प्रस्ताव भेजा गया है और अब उनकी प्लानिंग टीम आएगी। सर्वे ओके होते ही राज्य शासन को प्रस्ताव भेजा जाएगा।-किशोर कान्याल,अपर जिला मजिस्ट्रेट

Posted By: Nai Dunia News Network