Gwalior News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मधुमक्खी पालन व मशरूम उत्पादन जैसे उद्यानिकी खेती से जुड़े जिले के कृषक पांच मार्च को ग्वालियर में आयोजित होने जा रही राष्ट्रीय खाद्य प्रसंस्करण कार्यशाला सह इन्वेस्टर्स मीट में जरूर भाग लें। इसके लिए उपसंचालक किसान कल्याण एवं कृषि विकास से संपर्क कर पंजीयन कराया जा सकता है। यह जानकारी मनीषा यादव की अध्यक्षता में आयोजित हुई जिला पंचायत की प्रशासकीय समिति की बैठक में दी गई। साथ ही ग्रीष्म ऋ तु को ध्यान में रखकर ग्रामीण क्षेत्र की बंद नल-जल योजनाओं एवं हैंडपंपों को अभियान चलाकर ठीक कराने के निर्देश भी दिए गए।

जिला पंचायत के सभागार में बुधवार को प्रशासकीय समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में पेयजल संबंधी समस्याओं के निराकरण के लिए जनपद पंचायत कार्यालय में पेयजल प्रकोष्ठ स्थापित करने के निर्देश दिए। साथ ही जल जीवन मिशन के अंतर्गत स्वीकृत सभी नल-जल योजना के कार्य जल्द से जल्द शुरू किए जाएं। मोतीझील से गुप्तेश्वर तक साडा बायपास रोड की मरम्मत कराने का प्रस्ताव भी बैठक में पारित किया गया। साथ ही ग्राम पंचायत सुरहेला के ग्राम वेदों का पुरा एवं लोडेरा का विद्युतीकरण कराने के निर्देश भी विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों को दिए गए। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी किशोर कान्याल ने बैठक में सभी सदस्यों को जानकारी दी कि ग्रामीण क्षेत्र में भी 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों को कोविड-19 से बचाव के लिए टीक लगाने का काम शुरू हो गया है। 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के ऐसे व्यक्ति भी टीके लगवा सकते हैं जो गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं।

Posted By: anil.tomar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags