Gwalior News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कोरोना की दूसरी लहर से लगे कोरोना कर्फ्यू में लोग घर बैठे अपने हुनर को मंच देकर अपने टैलेंट को तराश रहे हैं। 'गायक कलाकार मित्र समूह" के सदस्य गायन के अलावा अपने अन्य हुनर से भी सबका परिचय करा रहे हैं। इन दिनों स्कूल-कालेज स्कूल बंद हैं, इसलिए समूह के सदस्य युवा और बच्चे को खाना बनाना, गार्डनिंग करना, केक बनाना आदि सीखा रहें। बोहड़ापुर में डा. अर्चना शर्मा पेशे से स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ हैं। कोरोना काल में मरीजों की सेवा करना ही उनका एकमात्र लक्ष्य है। उन्हें मरीजों से रात 10 बजे के बाद फुर्सत मिलती हैं तो सुकून के लिए वे 'गायक कलाकार मित्र समूह" के वाट्सएप ग्रुप पर गाना गाती हैं और अन्य सदस्यों का गायन भी सुनती हैं। 'गायक कलाकार मित्र समूह" के एडमिन की पत्नी अनुराधा घोड़के को बागवानी का शौक है। उन्होंने अपने घर की छत पर ही कई तरह की सब्जियों के पौधे लगा रखे हैं, जिनकी वे रोजाना दो घंटे देखभाल करती हैं।

मां से सीख रहे खाना बनानाः बोहड़ापुर निवासी तन्मय शर्मा 'गायक कलाकार मित्र समूह" में सदस्य हैं। वे इन दिनों अपनी मां से खाना बनाना सीख रहे हैं और अपनी मां की खाना बनाने में मदद भी कर रहे हैं। वैसे तो तन्मय अरिस्टो फार्मास्यूटिकल कंपनी में मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव हैं, लेकिन उन्हें खाना बनाना काफी पसंद है। इसलिए कोरोना कर्फ्यू के चलते वे इन दिनों अपनी मां से नए-नए पकवान बनाना सीख रहें और अपनी मां को भी यूट्यूब के जरिए नई-नई डिश बनाना सीखा भी रहे हैं।

पिता बेटी को सिखा रहे बागवानी करनाः गाजियाबाद के मोहित नारायण पारलेजी में नार्थ सेंट्रल रीजन के हेड हैं। वे भी 'गायक कलाकार मित्र समूह" में सदस्य हैं। वे इन दिनों अपनी बेटी सुकीर्ति को रोजाना बागवानी करना सिखा रहे हैं। उन्होंने फ्लैट में रहते हुए भी बालकनी में शानदार गार्डन बना रखा है। जहां उन्होंने ज्यादा से ज्यादा पौधे लगा रखे हैं, जिसमें उन्होंने सब्जियों, फूल व डेकोरेटिव पौधे लगा रखे हैं। बागवानी से उन्होंने अपनी बालकनी को काफी सुंदर बना रखा है।

बेटे ने सीखा मां से केक बनानाः दाल बाजार निवासी श्रीमती पूजा जैन भी 'गायक कलाकार मित्र समूह" में सदस्य हैं। वे फुर्सत के दिनों में केक बनाती हैं और केक बनाना सिखाती हैं। पूजा जैन के बनाए केकों की मार्केट में बहुत डिमांड है। उन्होंने अपने बेटे श्रेयांश जैन को भी केक बनाना सिखाया है। श्रेयांश इन दिनों केक बनाने में मां की मदद कर रहे हैं। वे केकों की मार्केट में होम डिलेवरी करने में भी मां की मदद कर रहे हैं।

सोसाइटी में करा रहे योगः ग्वालियर के बिल्डर और लायंस क्लब के पूर्व अध्यक्ष रमेश श्रीवास्तव भी 'गायक कलाकार मित्र समूह" में सदस्य हैं। कोरोना कर्फ्यू के चलते काम बंद होने से गायन के अलावा वे अपनी सोसाइटी के लोगों को सुबह-शाम योगा करना सिखा रहे हैं। योगा से वे लोगों को फिट रहने की प्रेरणा देते हैं। वे लोगों को योग के महत्व को समझाते हुए निरोग रहने की सलाह दे रहे हैं।

Posted By: vikash.pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags