ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ग्वालियर से दिल्ली फ्लाइट से जाने के लिए एक महिला यात्री राजमाता विजयाराजे विमानतल पर पहुंची। मेन गेट पार करने के बाद जब सीआईएसएफ ने फ्लाइट में चढ़ने से पहले चैकिंग की तो हैंडबैग में कुछ कारतूस जैसी चीज दिखाई दी। जब बैग खोलकर देखा तो उसमें 7.65 कैलिबर का कारतूस रखा था। सीआईएसएफ यह देखते ही अलर्ट मोड में आ गई। तत्काल महिला को बैठाकर पूछताछ शुरू की गई, इसके बाद महिला यात्री को महाराजपुरा थाना पुलिस के हवाले कर दिया गया।

गीता रानी निवासी ग्वालियर उम्र 45 साल एयर इंडिया की फ्लाइट से दिल्ली जाने के लिए रविवार को करीब शाम 5 बजे राजमाता विजयाराजे विमानतल पर पहुंची थी। मेन गेट से तो वह अंदर चली गई, लेकिन फ्लाइट में बैठने के पहले एयरपोर्ट पर सीआईएसएफ के जवानों ने पूरे सामान के साथ हैंडबैग में मशीन डालकर जांच की।

इसमें मॉनिटरिंग कक्ष में बैठे जवान को बैग में कुछ कारतूस जैसी चीज दिखाई दी। तत्काल मामले की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई। एयरपोर्ट डायरेक्टर वसीम अहमद अंसारी की मौजूदगी में सीआईएसएफ के जवानों ने महिला का बैग खोलकर चैक किया।

जिसमें 7.65 कैलिबर का एक जिंदा राउंड बरामद हुआ है। जब महिला से पूछताछ की तो वह जानकारी होने से इंकार करती रही, हालांकि बाद में बताया कि उनके दादा को हथियारों का बहुत शौक रहा है। इसलिए हो सकता है कि इसी में से कोई कारतूस गलती से उनके बैग में रह गया हो, लेकिन इसकी जानकारी होने से उन्होंने इंकार किया। महिला यात्री के बारे में तत्काल महाराजपुरा थाना पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने आकर महिला को हिरासत में ले लिया है।

15 दिन में दूसरी घटना

सीआईएसएफ की कड़ी सुरक्षा के चलते 15 दिन में दूसरी बार फ्लाइट में सवार होने से पहले दो यात्रियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। कुछ दिन पहले इसी प्रकार से एक यात्री सूर्यान्श को सीआईएसएफ ने पकड़ा था। जिसके पास से एक जिंदा कारतूस बरामद हुआ था।

क्यों है अलर्ट

ग्वालियर एयरबेस देश में खासा महत्व रखता है। हाल ही में सर्जिकल स्ट्राइक में भी इसी एयरबेस से लडाकू विमानों ने उड़ान भरी थी। इसी वजह से यहां हमेशा ही सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रखी जाती है। 370 हटने के बाद पाकिस्तान की तरफ से हुई बयानबाजी के बाद देश के सभी एयरपोर्ट एवं एयरबेस पर सुरक्षा दोगुनी कर दी गई है।

भादौ मास की पहली सवारी में पांच रूपों में भक्तों को दर्शन देंगे भगवान महाकाल

उज्‍जैन में बस रैलिंग तोड़ त्रिवेणी पुल पर लटकी, 60 यात्री बाल-बाल बचे