ग्वालियर, ईदुनिया प्रतिनिधि। स्कूल संचालक एवं बस ऑपरेटरों को मासूम बच्चों की बिल्कुल भी चिंता नहीं है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी स्कूल बसों में किसी प्रकार का सुधार दिखाई नहीं दे रहा है। शुक्रवार को आरटीओ ने चिरवाई नाके पर स्कूली वाहनों की जांच की। इस दौरान 7 बसों को जब्त करके थाने में खड़ा करवाया गया, जबकि 5 के मौके पर ही फिटनेस निरस्त कर दिए गए।

इनमें किडीज कॉर्नर की एक बस तो बिल्कुल ही असुरक्षित तरीके से बच्चों का परिवहन कर रही थी। यह वाहन कंडम होने के साथ ही इसमें सीसीटीवी कैमरे, फिटनेस, जीपीएस तक नहीं था। इस बस की हालत देख आरटीओ ने ड्रायवर से कहा- तुम क्या बच्चों की जान लोगे।

आरटीओ एमपी सिंह के नेतृत्व में परिवहन विभाग की टीम ने चिरवाई नाके पर चेकिंग प्वाइंट लगाकर स्कूली वाहनों की जांच की। इस दौरान किडीज कॉर्नर के वाहन (एमपी 07 पी 0842) को जब चेक किया तो इसमें ड्रायवर के पास फिटनेस, परमिट सहित जरूरी दस्तावेज तक नहीं थे। वाहन 19 साल पुराना कंडम हालत में था। जीपीएस, सीसीटीवी कैमरे भी नहीं थे, खिड़की के कांच पर काली फिल्म चढ़ी थी।

आरटीओ ने वाहन की हालत देख ड्रायवर से पूछा कि कभी स्कूल संचालकों ने तुम्हें टोका नहीं, आखिर इतनी बदहाल बस में तुम बच्चे कैसे ढो सकते हो, क्या बच्चों की जान की बिल्कुल भी चिंता नहीं है। इसके बाद सिपाही को साथ भेजकर बच्चों को स्कूल में छुड़वाकर गाड़ी को थाने में रखवा दिया गया।

किडीज कॉर्नर स्कूल की एक बस बिना परमिट के सड़क पर दौड़ती पकड़ी गई। जांच में पता चला कि वाहन दिल्ली से खरीदा गया था। इसे भी जब्त कर लिया गया, हालांकि बाद में चालानी कार्रवाई की गई है। इस कार्रवाई के दौरान ऑक्सफोर्ड स्कूल, देहली पब्लिक वर्ल्ड एवं रामश्री कीड्स स्कूल की बसों के फिटनेस निरस्त किए गए एवं जब्ती की गई है।

इन बसों को किया जब्त

एमपी 07 पी 1725, एमपी 07 पी 1122, वाहन क्रमांक 1303, एमपी 06 बी 1385, एमपी 07 पी 0842 एवं एमपी 07 पी 1062 को जब्त करके कंपू थाने में खड़ा कर दिया गया है।

इनके परमिट किए निरस्त

-एमपी 04 पीए 2283 में सीसीटीवी कैमरा नहीं था।

-एमपी 07 पी 0585 गाड़ी के टायर रिमोल्ड हैं।

-एमपी 07 पी 0821 स्पीड गवर्नर खुला हुआ पाया गया।

-एमपी 07 पी 1550 स्पीड गवर्नर खुला हुआ था।

-एमपी 07 पी 0393 में वायरिंग जली हुई थी।

स्कूलों को जारी होंगे नोटिस

परिवहन विभाग स्कूलों के खिलाफ भी कार्रवाई करने की तैयारी कर रहा है। इसके तहत स्कूल प्रबंधन को नोटिस जारी करने के साथ ही मान्यता समाप्त करने की अनुशंसा भी की जा सकती है। गौरतलब है कि विभाग पहले भी कई बार स्कूल प्रबंधकों को चेतावनी दे चुका है, इसके बाद भी बसों की मॉनिटरिंग नहीं की जा रहीै।

किडीज कॉर्नर के दो स्कूली वाहनों सहित करीब 7 बसों को जब्त किया गया है, जबकि 5 की फिटनेस निरस्त की गई है। इस स्कूल की बस कंडम हालत में थी, जिसमें सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन का खुला उल्लंघन किया जा रहा था। रिंकू शर्मा, एआरटीओ

Indore Weather Update : भारी बारिश की आशंका, इन कॉलोनियों के लोगों को किया शिफ्ट

Indore Weather Update : सितंबर की बारिश का 10 साल का रिकॉर्ड टूटा, 13 दिन में ही 12 इंच

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket